आगामी विधानसभा उपचुनाव में कोरोना संक्रमित बुजुर्ग या दिव्यांग मरीजों के घर या अस्पताल से पोस्टल बैलट कराए जाएंगे संकलित

मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में इस बार 7 खाली विधानसभा सीटों पर होने जा रहे विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर एक अहम फैसला लिया गया है। स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जितने भी कोरोना से संक्रमित बुजुर्ग या दिव्यांग होंगे उनके लिए एक अलग सुविधा प्रदान की गई है ताकि विधानसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव में वह भी अपना बहुमूल्य वोट अपनी पसंदीदा प्रतिनिधि को दे सके। इसमें जो सबसे रोचक बात निकल कर सामने आई है वह यह की इस कार्य को करने हेतु अब इन मरीजों को पोलिंग बूथ तक भी नहीं जाना होगा, बल्कि इनके घर या अस्पताल से ही पोस्टल बैलट संकलित करवाए जाएंगे।

कैसे संचालित होगी पूरी प्रक्रिया

प्रशासन द्वारा जारी की जाए इस तरीके के तहत अब चुनाव मशीनरी से जुड़े कर्मिकों  को इन मरीजों के पास पीपीई किट पहनकर जाना होगा और प्रत्येक वोटरों के पोस्टल बैलट संकलित करने होंगे।

सामान्य पोलिंग बूथों पर कैसे संचालित होगी वोटिंग की प्रक्रिया

अब तक हमने देखा कि किस प्रकार प्रशासन की ओर से संक्रमित मरीजों द्वारा उनके बहुमूल्य वोट,  होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए संकलित किए जाएंगे। वही बात जब सामान्य यानी उन वोटरों की करें जो कोरोना संक्रमित नहीं है तो उनके लिए भी खास प्रावधान किए गए हैं ताकि उनके स्वास्थ्य संबंधी विषयों का खास ध्यान रखा जा सके।

बुधवार को यानी आज उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ल द्वारा इन सातों विधानसभा सीटों से संबंधित जिलों के डीएम व एसएसपी / एसपी से वीडियो कान्फ्रेंसिंग पे हुई बातचीत के दौरान कई अहम फैसले लिए गए। मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा किए जा रहे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक के दौरान अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी डा. योगेश्वर राम मिश्र और संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी रमेश चन्द्र राय भी मौजूद थे। 

आपको बता दें शुक्रवार यानी 9 अक्तूबर से आगामी विधानसभा उपचुनाव हेतु नामांकन की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है जिसकी चल रहे तैयारियों की समीक्षा अधिकारियों द्वारा की गई। गौरतलब है कि नामांकन की प्रक्रिया हेतु चल रही तैयारियों की समीक्षा करने के अलावा चुनाव प्रचार और फिर मतदान आदि के लिए पर्यवेक्षकों, पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों, कर्मचारियों की तैनाती के लिए वाहन, हैण्ड सैनिटाइजर, ग्लब्स, पीपीई किट आदि के इंतजामों के बारे में भी इस बैठक के दौरान चर्चा की गई।

मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें होने वाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर प्रत्येक पोलिंग बूथ पर जो भी वोटर मतदान करने आएंगे उन्हें इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन का बटन दबाने से पहले सैनिटाइज्ड ग्लब्स दिए जाएंगे। इन सबके अलावा पोलिंग बूथ पर आए मतदाताओं के बीच सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा  बाकी के जरूरी दिशा निर्देशों का सही तरीके से पालन हो सके इसके लिए उपयुक्त चुनाव कर्मिकों को भी तैनात किया जाएगा।

Leave a Comment