आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही ना होने पर बिजली कर्मियों का विरोध प्रदर्शन, इंटीग्रल यूनिवर्सिटी उपकेंद्र का काम हुआ बाधित

लखनऊ: लखनऊ शहर में लाइनमैन से मारपीट का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार 19 सितंबर कि रात्रि, किसी उपभोक्ता के शिकायत करने पर पीड़ित लाइनमैन राजू और नंदकिशोर बिजली का काम मरम्मत करने जा रहे थे। उसी दौरान कुछ लोगों ने रास्ते में घेर कर उन दोनों के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया।  इस मारपीट में बिजलीकर्मियों को काफी चोटें भी आई।

जब पीड़ित व्यक्तियों ने आरोपियों की शिकायत दर्ज करने के मकसद से गुंडवा स्थित गड़ी चौकी पहुंचे, तो वहां की पुलिस ने दोषियों के खिलाफ कोई एफआईआर तक दर्ज नहीं किया। जिससे नाराज होकर बिजलीकर्मियों ने इंटीग्रल यूनिवर्सिटी उपकेंद्र को बंद कर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। उनका कहना था कि जब पुलिस ही उनके साथ ऐसा पक्षपात व्यवहार करेगी तो आगे चलकर ना जाने कितने राजू और नंदकिशोर जैसे इस घटना का शिकार हो सकते हैं।  ऐसे डर से भरे वातावरण में बाकी के बिजली कर्मियों का काम करना मुश्किल हो जाएगा।

हालांकि जब एसडीओ शैलेंद्र धूसिया की ओर से उन्हें आश्वासन दिया गया कि वह आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई अवश्य करेंगे तब जाकर कहीं दिन के 12:00 बजे सभी बिजलीकर्मी वापस अपने काम पर लौटे। इस बीच  करीब 3 घंटे तक इंटीग्रल यूनिवर्सिटी उपकेंद्र का काम बाधित रहा।

Leave a Comment