उत्तर प्रदेश के नगर पंचायतों के 168 रिक्त पदों की भरी जाएंगी रिक्तियां।

खुशखबरी   –  अब उत्तर प्रदेश के नगर पंचायतों के 168 रिक्त पदों की भरी जाएंगी रिक्तियां।

 

 

 

उत्तर प्रदेश, ( कुलसूम फात्मा )  उत्तर प्रदेश राज्य में बनी नई नगर पंचायतों में कार्य करने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों की आवश्यकता है। साथ ही दूसरी और जो पहले से नगर पंचायत कार्य कर रही हैं, उनमें भी कर्मचारियों तथा नगर पंचायत अधिकारियों की आवश्यकता है। इन सभी आवश्यकताओं को देखते हुए नगर विकास विभाग ने शहरों की बढ़ती हुई आबादी के आधार पर 56 नगर पंचायतों में रिक्त पदों की भर्ती निकाली।
नगर विकास विभाग ने शहरों की बढ़ती हुई आबादी को देखते हुए इन बड़े गांवों को नगर पंचायत का दर्जा दिया और नगर पंचायत के गठन से लेकर प्रस्ताव को कैबिनेट के पास भी पहुंचा दिया है जिसका विधिवत गठन हो चुका है इन नगर पंचायतों में अधिकारी तथा कर्मचारी को पहले 33 चरण के पदों का सृजन किया गया है। और उसके बाद अधिकारियों और कर्मचारियों की तैनाती की जाएगी। नगर विभाग का मानना है की जो नई नगर पंचायतें हैं वहां काम शुरू हो जाने के पश्चात यहां पर बेहतर सुविधा भी मिलेगी।

जाने रिक्तियों के संबंध में।

 

प्रदेश में नई बनी 56 नगर पंचायतों के लिए 33 पदों की भर्ती निकाली जाएंगी। यदि देखा जाए तो इस हिसाब से इन सभी नगर पंचायतों में कुल पद 168 हैं। इनकी भर्तियां निकाली जाएंगी। इनमें एक अधिशासी अधिकारी होगा। एक कर निरीक्षक और एक चतुर्थ श्रेणी इन्ही के पदों पर भर्तियां की जाएंगी। नगर विकास विभाग इन पदों पर जल्द से जल्द भर्ती प्रारंभ करने का प्रस्ताव भी भेजेगा। नगर पंचायत के पदों के सृजन की प्रक्रिया मानना है कि मई में प्रारंभ कर दी जाएगी।

 

जाने नवगठित निकायों का क्या होगा ?

 

इन नवगठित निकायों का मुख्य कार्य –

नागरिक सुविधा देना होगा
इसके लिए नगर पंचायत क्षेत्र का सर्वे कराएगी
नगर पंचायत क्षेत्र का सर्वे कराया जाएगा
और विकास का प्रस्ताव बनाते हुए शासन को भी भेजा जाएगा।
पंचायत क्षेत्र में आने वाले मोहल्लों से हाउस टैक्स की वसूली का पूर्ण रूप से कार्य भी प्रारंभ किया जाएगा।शासन ने वित्तीय स्वीकृति के पश्चात उपर्युक्त क्षेत्रों में विकास के कार्य शुरू कराए जाएंगे।

Leave a Comment