कम नहीं हो रहा प्रदेश में दुष्कर्म का मामला, प्रथम वर्ष की छात्रा की संदिग्ध हालातों में हुई मौत

प्रदेश में हाथरस वाली घटना से लोग अभी तक निकल पाए ही नहीं थे की एक और छात्रा की मौत की घटना सामने आ रही है।  

मिली जानकारी अनुसार  यह घटना गैसड़ी कोतवाली क्षेत्र से सटे गांव की है जहाँ 22 वर्षीय छात्रा मंगलवार की सुबह बीकॉम प्रथम वर्ष में अपना दाखिला करवाने हेतु बिमला विक्रम कॉलेज गई थी जहां से वे करीब 9 घंटे बाद वापस घर लौटी। जब छात्रा को घर वापस आने में देर हो रही थी उस वक्त परिवार वालों ने कई दफा उसे फोन मिलाने की कोशिश की मगर छात्रा से उनकी बात नहीं हो पाई आपको बता दें 22 वर्षीय छात्रा रात के करीब 7:45 बजे अपने घर वापस लौटी। जिस अवस्था में वह घर आई थी वह काफी संदिग्ध पूर्ण था।

ऐसा कहा जा रहा है की लड़की वापस अपने घर किसी रिक्शे पर बैठकर आई थी। वापस आते ही उसने अपनी मां से पेट में दर्द होने की बात कही और इसके अलावा और कुछ भी कहने की हालत में प्रतीत नहीं हो रही थी। लड़की की हालत देख परिवार वालों ने उसे एक निजी अस्पताल में ले जाने का निर्णय लिया।  हालांकि लड़की की हालत गंभीर देखकर  निजी अस्पताल के चिकित्सक ने छात्रा को तुलसीपुर सीएचसी ले जाने की सलाह दी। छात्रा के परिजन उसे लेकर जा ही रहे थे कि रास्ते में ही उस छात्रा ने अपना दम तोड़ दिया।

मामले की जांच कर रहे प्रभारी निरीक्षक कमलेश कुमार ने  एक बयान जारी कर बताया की छात्रा की मां ने यह आरोप लगाया है कि उसकी बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया है और इस डर से ही कहीं लड़की अपराधियों के नाम न सामने ले आए उनकी बेटी को जहर दे दिया गया और फिर रिक्शे में बिठाकर घर भेज दिया गया। छात्रा की मां की शिकायत के तर्ज पर तीन लोगों को हिरासत में ले उनसे पूछताछ की जा रही है। छात्रा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है

अब वास्तविक बात पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आ सकती है।

Leave a Comment