कोरोना महामारी से बचने के लिए सरकार ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए भी किया प्रबंध , जाने इसके बारे में।

कोरोना महामारी से बचने के लिए सरकार ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए भी किया प्रबंध , जाने इसके बारे में।

 

कोरोना संक्रमितों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती देखने के पश्चात सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है अब
गाइडलाइन को पूरा करने के साथ-साथ आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी टीका लगवाया जाएगा। हाला के कोरोना वैक्सीन अभी तक के नहीं आई है परंतु फिर भी स्वास्थ्य विभाग इसकी तैयारी में पूरी तरीके से लगा है और पहला कदम आशा तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को टीका लगाकर के उठाया जाएगा।

वर्तमान समय में इनकी भी लिस्ट को तैयार करा जा रहा है। अभी तक के 3000 स्वास्थ्य कर्मियों की लिस्ट पूर्ण रूप से तैयार की जा चुकी है। और कोरोना वैक्सीन आने के पश्चात सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों को यह लगाई जाएगी। इसके लिए तकरीबन 15 दिनों तक डिपार्टमेंट ने सभी ऑफिशियल तथा निजी अस्पतालों के स्वास्थ्य कर्मियों की लिस्ट को तैयार कर लिया है।

विभाग इस लिस्ट को तैयार करके लखनऊ भेज चुका है। इसके पश्चात अब निर्देश जारी होगा। इसके जरिए लिस्ट में आशा तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी सम्मिलित किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग पहले सा फ्रंटलाइनर को कोरोना का वैक्सीन लग जाएगा। इसके पश्चात बाकी को बारी-बारी से वैक्सीन लगवाने का प्रयत्न करेगा। सबसे अधिक परेशानी बड़ी जनसंख्या को टीका लगाने की होगी। ऐसा बताया जा रहा है। इसके लिए ज्यादा स्टाफ की आवश्यकता पड़ेगी स्वास्थ्य विभाग ने कहा की इस कार्य के लिए उनके पास टीम उपलब्ध है।

लेकिन फिर भी इस कार्य के लिए इनको नर्सिंग कॉलेज के छात्र तथा छात्राओं की सहायता मिल जाए तो अच्छा होगा। इससे किसी भी लेवल पर टीका लगाने में किसी भी तरीके की परेशानी नहीं आएगी।

सीएमओ डॉ विवेक सिंह से वार्तालाप करने के पश्चात पता चला की वह लोग अपने स्तर पर पूर्ण रूप से तैयारी कर रहे हैं। शासन से भी जो भी निर्देश दिए गए हैं या फिर और आएंगे उनको पूरी तरीके से फॉलो करेंगे और लोगों के टीका लगाएंगे जिससे कि कोरोना से लड़ने में सहायता मिले।

Leave a Comment