कोरोना महामारी से लड़ने के लिए रेलवे ने यात्रियों के लिए किया सुविधाजनक प्रबंध।

कोरोना महामारी से लड़ने के लिए रेलवे ने यात्रियों के लिए किया सुविधाजनक प्रबंध।

 

लखनऊ , ( कुलसूम फात्मा ) कोरोना महामारी से संक्रमित मरीजों की संख्या कभी ज्यादा देखने को मिलती है तो कभी अचानक से कम
इस माह नवंबर में संक्रमित व्यक्त माह की 1 तारीख से ही मिलना अधिक संख्या में प्रारंभ हो गए मानना है कि यह दर ठंडक में अधिक बढ़ जाएगी इसलिए रेलवे ने कोरोना से यात्रियों को बचाने के लिए तथा इसकी तादात में कमी करने के लिए हर वह उचित कदम उठाए जिसे वह उठाने योग्य था।

पूर्वोत्तर रेलवे ने इस बारएंटी- कोविड कोच का निर्माण किया है। गोरखपुर के यांत्रिक कारखाना में तैयार इस कोच का प्रयोग के तौर पर बदलकर कोविड कोच का निर्माण किया गया । और इस कोच की कोटिंग का असर केवल 1 वर्ष तक रहेगा इस कोच को Anti Covid Coach के
नाम से जाना जाएगा क्योंकि इसका प्रभाव 1 वर्ष तक ही रहेगा जो की कोरोना से बचाने का यात्रियों को कार्य करेगी। इस कोच में यात्री बेखौफ यात्रा कर सकेंगे।

जाने इस नई कोच के बारे में।

इस कोच में पानी के नल और लिक्विड, सोप के डिब्बे पैदल ऑपरेटेड से लैस हैं ।
प्रवक्ता ने बताया की सभी हैंडल पर फेलो तथा स्ट्रीट की न्यू और कॉपर कोटिंग की गई है। कॉपर में एंटीमाइक्रोबिएल गुण जिससे की वायरस अप्रभावी हो जाते हैं। कोच में में ट्रांसपेरेंट टाइटेनियम डाइऑक्साइड की कोटिंग की गई है।
जिसके कारण बैक्टीरिया और फंगस नष्ट होता है।
मानना है की वहीं दूसरी ओर वाशबेसिन सीट और बर्थ स्नेक टेबल ग्लास विंडो फ्लोर के संपर्क में सभी आने वाले यात्री संक्रमित होने से काफी हद तक सुरक्षित रहेंगे।

Leave a Comment