कोरोना से लड़ने के लिए 700 कर्मी लगाएंगे टीका नये साल से प्रक्रिया होगी प्रारंभ।

कोरोना से लड़ने के लिए 700 कर्मी लगाएंगे टीका  – 

 

लखनऊ,( कुलसूम फात्मा ) कोरोना महामारी से लड़ने के लिए उत्तर प्रदेश की राजधानी में जोर शोर से तैयारी चल रही है। जी हां, इस नए साल 2021 में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना का टीकाकरण होगा। इसके लिए तकरीबन 700 कर्मी को तैयार किया जा रहा है। और इनको जल्द ही ट्रेनिंग दी जाएगी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना से लड़ने के लिए नई नीति अपनाई जा रही है। कोरोना टीकाकरण के संबंध में राज्य स्तरीय ट्रेनिंग कार्यशाला में प्रारंभ हो चुकी है। और इस 2 दिन की कार्यशाला में अलग-अलग जनपदों के सीएमओ तथा इम्यूनाइजेशन ऑफिसर भी सम्मिलित हो रहे हैं। वहीं दूसरी ओर लखनऊ के सीएमओ डॉ संजय भटनागर तथा वैक्सीनेशन कार्यक्रम अधिकारी डॉ एमके सिंह, डिस्टिक प्रोग्राम मैनेजर सतीश यादव दो मेडिकल अफसर सम्मिलित हो रहे हैं वहीं दूसरी ओर कार्यशाला में 2 टीचर ट्रेनर के रूप में तैयार किए जा रहे हैं।

इन टीचर्स को ट्रेनिंग दी जाएगी कि कोरोना वैक्सीन किस तरीके से लगाई जाए और ट्रेनिंग के पश्चात यही टीचर कोरोना वैक्सीन लोगों को लगाएंगे। डॉक्टर एनके सिंह के अनुसार जनपद में वैक्सीनेशन के लिए तकरीबन 730 कर्मियों की सूची अभी तक के बनाई जा चुकी है। इसमें एएनएम तथा स्टाफ नर्स भी सम्मिलित की गई है। इनमें टीचर्स ट्रेनर कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए ट्रेनिंग दे रहे हैं।

 

जाने कितने लोगों को लग सकता है यह टीका ?

सर्वप्रथम तो डिस्टिक में हेल्थ वर्कर को यह टीका लगाया जाएगा। इसके पश्चात सरकारी तथा निजी हॉस्पिटल के हेल्थ वर्कर को यह टीका लगाया जाएगा। हर व्यक्ति को वैक्सीन की दो-दो डोज़ लगाई जाएंगी। इस सबकी डिटेल ऑनलाइन रिकॉर्ड की जाएगी । इसके साथ ही किस बेंच की वैक्सीन लगाई गई है, इसकी भी डिटेल दर्ज की जाएगी। वही वैक्सीनेशन का कार्ड बनाया जाएगा और सही समय पर दूसरी डोज दी जाएगी। जिन लोगों को फायदा होगा उनके पास एसएमएस भी पहुंचेंगे। इसके पश्चात फ्रंटलाइन वर्कर को टीका लगेंगे। यह निगम कर्मी,और पुलिस बल के अलावा और भी कर्मी टीकाकरण में मौजूद होंगे। इसके पश्चात बुजुर्गों को भी टीकाकरण प्रारंभ किया जाएगा।

Leave a Comment