जब सुनवाई न हुई तो युवक ने टावर पर चढ़ कर लगाई न्याय की गुहार।

 

बहराइच  ( कुलसूम फात्मा )    सोनापार निवासी सोनी लाल यादव जिसकी आयु 35 है पुत्र राम मोहित यादव ने बताया कि उसका घर प्राथमिक विद्यालय के पीछे है। वह वहीं रहता है। और डेढ़ साल पहले प्रधान ने स्कूल की चहार दीवारी का निर्माण कराया है। जिसमें उसके घर से निकलने का रास्ता बंद हो गया है।
और उनके विरोध करने पर भी निर्माण कार्य न रोका गया। उसने जब न्याय की गुहार प्रधान के खिलाफ लगाई तो उसकी एक न सुनी गई।

बहराइच जिले में स्थित रेहरा बाजार के सोनापार का निवासी एक युवक प्रशासन के न सुने जाने से रास्ते को लेकर हुए विवाद में न्याय की गुहार लगाई और थक कर अपनी बात मनवाने के लिए टावर पर चढ़ गया।
असल में गांव के प्रधान ने उसके घर से निकलने के रास्ते पर दीवार खड़ी कर दी है। युवक के विरोध करने पर भी निर्माण नहीं रूका और दीवार गिरवाने के लिए जब वह दौड़कर थक गया और सुनवाई न होने पर उसने टावर पर चढ़कर प्रशासन से सुनवाई के लिए गुहार लगाई , युवक करीब दो घंटे तक टावर पर चढ़ा रहा, जिसके कारण पुलिस परेशान हो गई । हालांकि एसडीएम ने रास्ते का मुवायना करने के पश्चात दीवाल गिराने की बात कही है।

सोनीलाल के अनुसार पिछले एक साल से सरकारी दफ्तरों का वह चक्कर काटकर बेहद थक चुका था।और उसे अपने घर से निकलने का रास्ता चाहिए था। प्रधान की प्रशासन में काफी बातचीत होने के कारण उसकी वहां एक न सुनी गयी इसलिए उसने हार कर इस तरीके से न्याय की मांग की वह करीब तीन घंटे टावर पर चढ़ा रहा और 3 घंटे बाद उतरौला के एसडीएम अरुण कुमार गौड़ व सीओ राधारमण सिंह तथा प्रभारी निरीक्षक पारस प्रसाद के समझाने पर उतरा ।

Leave a Comment