डीजीपी ने लगाई पुलिस कर्मियों की दाढ़ी बढ़ाने और क्लीन शेव कराने पर रोक।

डीजीपी ने लगाई पुलिस कर्मियों की दाढ़ी बढ़ाने और क्लीन शेव कराने पर रोक।

 

 

 

डीजीपी ने अपने पत्र द्वारा पुलिसकर्मियों को याद दिलाया कि ,पुलिस कर्मियों को अब पूर्ण रूप से नियमों का पालन करना होगा। और जो पुलिसकर्मी इन नियमों का पालन ना करेंगे, उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

यूपी के बागपत में एक पुलिसकर्मी ने बिना इजाजत दाढ़ी रख ली , जिस पर विवाद छिड़ गया और डीजीपी ने
विवाद छिड़ने पर पुलिसकर्मियों को उनके लिए बनाए गए नियमों को पुनः याद कराया,

कहा केवल सिख धर्म के पुलिसकर्मीयों के लिए छूट है। कि वह दाढ़ी बढ़ा सकते हैं और क्लीन शेव करा सकते हैं।
साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि अगर यह सक्षम प्रधिकारी के द्वारा परमिशन दी जाए । तो भी दाढ़ी के बाल छोटे होंगे और सही तरीके से कटे होने चाहिए।
और मूँछे वह अपनी इच्छा के अनुसार रख सकते हैं परंतु उसमें भी वह ट्रीम्ड होने चाहिए।

 

डीजीपी ने विभाग अध्यक्ष व कार्यालय अध्यक्ष को पत्र लिखकर सूचित किया की पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों द्वारा ड्यूटी के समय वर्दी ना पहनने के नियमों को फॉलो नहीं किया जा रहा है। यह सूचना मुझे बार-बार मिल रही है। साथ में उन्होंने यह भी कहा की यदि कोई पुलिसकर्मी
किसी धार्मिक आधार पर अस्थाई अवधि के लिए दाढ़ी रखना चाहता है

या फिर लंबे बाल रखना चाहता है तो वह सर्वप्रथम कार्यालय प्रमुख से परमिशन लेगा।
उन्होंने कहा कि यह परमिशन एक तो निश्चित समय के लिए ही दी जाएगी और दूसरी विशेष बात यह होगी कि उस परमिशन में बाल लंबे बढ़ाने की परमिशन बिल्कुल भी नहीं दी जाएगी।

अनुमति मिल जाती है तो वह निश्चित समय के लिए दाढ़ी रखेगा उसके पश्चात वह पुनः नियमों का पालन करेगा।
उपर्युक्त बात डीजीपी ने अपने पत्र द्वारा कर्मचारियों
के नियमों को याद दिलाते हुए उसमे यह बात भी मेंशन की, पुलिसकर्मी स्वच्छ वर्दी में आए और उपर्युक्त नियमों का पालन करें।

Leave a Comment