लाख कोशिशों के बाद भी थम नहीं रहा कोरोना का कहर, बीते 24 घंटे में 454 नए कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए

लखनऊ: भले ही उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वास्थ्य में काफी हद तक सुधार देखने को मिल रहा है और प्रदेश का रिकवरी रेट भी काफी बढ़ चुका है। इसके बावजूद प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा।

बीते 24 घंटे में शहर में 454 नए कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए।

कहाँ मिले कितने संक्रमित मरीज 

  • आशियाना – 15 मरीज
  • इंदिरानगर  – 43 मरीज
  • आलमबाग – 25 मरीज
  • ठाकुरगंज – 10 मरीज
  • गोमती नगर – 32 मरीज 
  • हजरतगंज – 20 मरीज
  • मड़ियांव – 16 मरीज 
  • रायबरेली रोड – 34 मरीज
  • अलीगंज – 32 मरीज 
  • जानकीपुरम – 17 मरीज 
  • महानगर – 11 मरीज
  • चौक – 15 मरीज 
  • चिनहट – 21 मरीज 
  • विकासनगर – 13 मरीज 
  • बाजार खाला – 10 मरीज 
  • डालीगंज – 3 मरीज 
  • हसनगंज – 12 मरीज 
  • कैंट – 24 मरीज 

इन सारे इलाकों के अलावा शहर के और भी ऐसे कई इलाके हैं जहां से कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए हैं। कोरोना का खौफ यहीं पर नहीं थमता, आए दिन इस बीमारी से संक्रमित होने की वजह से लोग अपनी जान भी गंवा रहे हैं। बीते सोमवार  कुल 13 लोगों ने  अपनी जान गवा दी।

मिली जानकारी के अनुसार उन 13 लोगों में से एक लखनऊ शहर के रहने वाले 66 वर्षीय बुजुर्ग थे जो कोरोना बिमारी से संक्रमित हो गए थे। आपको बता दें कि बुजुर्ग को किडनी की समस्या भी थी और इसी वजह से जब उनकी हालत और भी ज्यादा बिगड़ने लगी तो उन्हें केजीएमयू के कोरोना वार्ड में भर्ती करा दिया गया था। बीते सोमवार इलाज के क्रम में बुजुर्ग ने अपनी अंतिम सांसे ली।

इसके अलावा जहां एक ओर 66 वर्षीय बुजुर्ग ने बीते सोमवार को अपनी आखिरी सांसे ली वहीं दूसरी ओर 45 वर्षीय एक पुरुष के कोरोना बीमारी के चपेट में आने की वजह से मृत्यु हो गई।

कई मरीजों ने दी कोरोना बीमारी को मात

जहां एक ओर शहर में ना तो कोरोना से संक्रमित होने वाले नए मरीजों के ग्राफ में गिरावट देखने को मिल रही है ना ही इस बीमारी से होने वाली मौतों की संख्या घटने का नाम ले रही। हालांकि इन सबके बावजूद प्रतिदिन कई ऐसे मरीज है जो ठीक होकर वापस अपने घर जा रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार बीते 24 घंटे में 582 मरीज ऐसे निकल कर सामने आए जिन्होंने इस बीमारी से लड़ते हुए इसे हरा दिया।

अस्पताल में भर्ती कई मरीजों की हालत गंभीर

कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बेशक बढ़ रही हो मगर जो मरीज इससे संक्रमित हुए हैं और जो अस्पताल में भर्ती है उनमें से कुछ मरीज ऐसे हैं जिनकी हालत बिगड़ती जा रही है।

आपको बता दें मिली जानकारी के अनुसार कोरोना बीमारी से संक्रमित कुल 140 मरीजों को हॉस्पिटल का आवंटन किया गया। मगर चिंता का विषय यह है कि इनमें से 97 ऐसे मरीज हैं जिनकी हालत बिगड़ रही थी।  ऐसे परिस्थितियों में इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनके अलावा 43 मरीज ऐसे हैं जिन्होंने अस्पताल में भर्ती होने की जगह होम आइसोलेशन में रहने का फैसला लिया। आपको बता दें होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की संख्या कुल 3468 है जिन से फोन पर बात कर चिकित्सक उनके स्वास्थ्य का जायजा ले रहे हैं।

साझा की गई जानकारी के अनुसार कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर अबतक 8216 लोगों का सैंपल लिया जा चुका है जिसे आगे की जांच के लिए केजीएमयू भेजा जा चुका है।

Leave a Comment