लखनऊ में फिर एक बहुत बड़ा घोटाला लगभग 450 सौ करोड़ लेकर हुए रफूचक्कर।

लखनऊ में फिर एक बहुत बड़ा घोटाला लगभग 450 सौ करोड़ लेकर हुए रफूचक्कर। 

लगभग 400 एफ आई आर दर्ज होने के बावजूद भी लखनऊ पुलिस नहीं कर पा रही है जांच करीब ४५० सौ करोड रुपए की ठगी को लेकर लगातार आदेश जारी हो रहे हैं।  लोगों  कि इनको जल्द से जल्द इनकी तलाश कर इनको पकड़ा जाए। 

इन  पर सही कार्रवाई किया जाए लखनऊ में राजधानी की पुलिस रोहतास बिल्डर को 4 वर्ष से तलाश नहीं कर पा रही है।

जिस वजह से हाई  कमांड ने इनके ऊपर नाराजगी जताई है।  तथा 2016 से ही कई एफ आई आर दर्ज हो गई थी लेकिन पुलिस की नाकामी से बिल्डर हमेशा बचता रहा है। जिस वजह से अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

अब देखा जाए तो है हाईकमान से सख्ती के बाद पुलिस ने बिल्डर पर शिकंजा कसते हुए उसके एमडी एवं सीएमडी को भगोड़ा घोषित कर दिया है।

रोहतास बिल्डर ने राजधानी के 1950 से लगभग ४५०  की ठगी की है। नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल एनसीएलटी के जांच में इतनी बड़ी रकम ठगी का खुलासा हुआ है।

लोगों के पैसे लेकर भागने के बावजूद उन्होंने बैंकों को भी नहीं छोड़ा है।

उन्हें बैंकों से भी लगभग डेढ़ अरब रुपए लेकर रफूचक्कर हुए हैं रोहतास बिल्डर ने बैंकों को भी चूना लगाने से नहीं रह सके १ अरब ५ करोड़ लोन लिया था।

 सभी मिलकर इन बिल्डरों के खिलाफ जांच तथा गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। 

Leave a Comment