बदलते मौसम के साथ कोरोना भी बदलेगा अपना रंग ,संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढ़ने का है अंदेशा

बदलते मौसम के साथ कोरोना भी बदलेगा अपना रंग ,संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढ़ने का है अंदेशा

 

 

उत्तरप्रदेश , ( कुलसूम फात्मा )   सरकार ने बढ़ते हुए मौसम के साथ सलाह दी की लोगों को बदलते मौसम के साथ अपना भी खास तरह से ख्याल रखना होगा और साथ ही सावधानियां बरतनी पड़ेगी उत्तर प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या में गिरावट देखने पर भी सरकार ने ठंड को देखकर के प्रदेशीयों से सतर्क रहने का अनुरोध किया है़।

 

उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के एक्टिव केस 1788 नए आए हैं। दिल्ली, हरियाणा तथा राजस्थान समेत आसपास के सभी राज्यों में कोरोना संक्रमण की पुनः बढ़ने की आशंका बताई जा रही है। इसलिए सरकार ने उपर्युक्त आशंकाओं को देख करके जनता को सावधानी बरतने का अनुरोध किया है। कि बदलते हुए मौसम के साथ-साथ विशेष रूप से सावधानी बरती जाए ।
प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य आलोक कुमार के अनुसार प्रदेश में पिछले दिनों में टोटल 134064 सैंपल की जांच की जा चुकी है और इस तरह से प्रदेश में अब तक कुल मिलाकर 15149160 सैंपल की जांच हो चुकी है। बताया कि इस प्रकार से प्रदेशों में 23035 कोरोना के एक्टिव मामले आज भी मौजूद है। उन्होंने कहा कि एक्टिव मामले की लगातार गिरावट तो हो रही है परंतु यदि मृत्यु दर देखी जाए तो पिछले दिनों में 25 व्यक्तियों की कोरोना से संक्रमित होकर के मृत्यु हुई है। इस तरह से व्यक्तियों की मृत्यु आज भी करोना के कारण जारी है इस माह में भी मरीजों की संख्या निरंतर बनी हुई है।

 

6 अस्पतालों को मिला कोरोना मरीजों से छुटकारा।

 

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ शहर की यदि बात की जाए तो लखनऊ शहर में स्थित 15 अस्पतालों में वर्तमान समय में 20 से कम मरीज भर्ती हैं। वहीं दूसरी ओर ऐसे अस्पताल हैं जिनमें कोरोना के मरीज अभी एक भी नहीं है। जुलाई से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही थी। परंतु यह सितंबर के तीसरे सप्ताह में इस पर काबू पा लिया गया और मरीजों की तादाद भी धीमे-धीमे कम होती गई।
संक्रमित व्यक्तियों की जनसंख्या बड़ी तो 31 अस्पताल कोविड मरीजों के लिए आरक्षित कर दिया गया । और इनमें 2781 आइसोलेशन के बेड उपलब्ध कराए गए।

एचडीओ में 698 बेड है और 435 बेड आईसीयू वेंटीलेटर यूनिट में है और मरीजों की संख्या घटने के पश्चात करीब छह अस्पतालों को कोविड सूची से हटा दिया गया है।
वर्तमान समय में अस्पतालों में सामान्य मरीज अब एडमिट किए जाएंगे।