बाराबंकी मार्ग पर दाल से भरा लूटा गया ट्रक, आधुनिक तकनीक बदमाशों पर पड़ी भारी

बाराबंकी –  आज बाराबंकी मार्ग से जा रहे एक मटर की दाल से भरे ट्रक को बदमाशों द्वारा लूट लिया गया, जिसकी कीमत तकरीबन साढ़े 5 लाख रुपये है। लूटे हुए ट्रक के चालक ने जैसे ही  पुलिस को इस विषय में सूचित किया तो आधुनिक तकनीकों की मदद से  पुलिसकर्मियों को यह पता चला कि  डीसीएम में जीपीएस सिस्टम लगा हुआ है। फिर क्या था पुलिस फौरन के फौरन लोकेशन निकालकर लूटी हुई ट्रक के समीप पहुंची।  मिली जानकारी के अनुसार चोरी की गई ट्रक पुलिस वालों को सफदरगंज में दिखाई दी।

पुलिस ने सोमवार की सुबह छापेमारी की परन्तु बदमाश तब तक भाग निकलने में पूरी तरह से सफल हो गए थे। मौके पर पहुंचते ही पुलिसे द्बारा लदे दाल के ट्रक को बरामद कर लिया गया। 

बदमाशों ने की मारपीट

मिली जानकारी अनुसार ट्रक चालक शिवम पुत्र कुंदन जालोना जनपद में स्थित कामाख्या एंटरप्राइजेज से 220 बोरी मटर की दाल जिसकी कीमत अंदाज़न करीब साढ़े ₹5,00000 है को लेकर भगवतीपुर थाना औरैया से निकला था उसे उसके निश्चित स्थान जो कि अयोध्या जनपद के रुदौली कस्बे में स्थित गोयल ट्रेडिंग कंपनी है,  पर पहुंचाने हेतु। 

जब चालक नेशनल हाईवे पर शहर कोतवाली क्षेत्र के करौली गांव समीप पहुंचा तो शौच करने के लिए अपने ट्रक को हाईवे के किनारे लगा दिया। जब वह शौच करके लौटा तो अचानक से उसने देखा कि बाइक से दो  बदमाश उतरे और डीसीएम के अंदर उसे डालकर पीटना शुरू कर दिए। उसके बाद ट्रक चालक को नीचे धक्का देकर दाल भरी डीसीएम लूट कर ले गए। उस समय उस चालक के पास ₹17000 नगद जो कि उसकी जेब में थे तथा उसका मोबाइल और ट्रक में लगी एलसीडी भी लूट कर ले गए।

जब बदमाश उस घटनास्थल से चले गए तो बेसुध चालक शिवम ने राहगीरों से मदद मांगी। मोबाइल मांग कर 112 नंबर पर फोन किया तो मौके पर पीआरवी के जवान पहुंचे और चालक को कोतवाली पहुंचाया। कोतवाली पुलिस ने जब चालक के बताए गए नंबर जो की गाड़ी मालिक का था, संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि डीसीएम में जीपीएस सिस्टम लगा है।

फिर क्या था पुलिस ने लोकेशन के द्वारा ट्रक को खोज निकाला जो कि  पुलिस वालों को सफदरगंज बदोसराय मार्ग पर मिला। मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने जब चिलौकी गांव के आसपास छापा मारा तो ट्रक वहीं पर मिला और वहां पर एक गोदाम था, जिसमें एक चौकीदार भी था। उस गोदाम के अंदर तलाशी लेने के पश्चात लूटा गया सारा माल  भी बरामद कर लिया गया। 

चौकीदार से की गई पूछताछ

पुलिस ने गोदाम पर बैठे चौकीदार को फौरन हिरासत में ले लिया। चौकीदार रोहन ने बताया कि गोदाम के मालिक चौखंडी निवासी अब्दुल गफ्फार पुत्र मोहम्मद यूसुफ है। परंतु गोदाम को सफदरगंज कस्बे के रहने वाले मोहम्मद रफी पुत्र मोहम्मद असगर ने किराए पर ले रखा है। वह उनके लिए ही यहीं पर रहकर चौकीदारी का काम कर रहा है। पुलिस ने गोदाम को किराए पर लेने वालों की तलाश में छापेमारी की मगर वह घर पर नहीं मिले। उपर्युक्त मामले की जांच पुलिस द्वारा बड़े ही जोर शोर से की जा रही है। माना जा रहा है कि पुलिस जल्द से जल्द उन बदमाशों को भी ढूंढ निकालेगी।

आखिर जीपीएस सिस्टम है क्या ?

जीपीएस सिस्टम द्वारा किसी भी वाहन के लोकेशन को अर्थात वह उस समय कहां है खोज निकाला जा सकता है। यह लूटपाट जैसी वारदात के होने पर सहायता प्रदान करता है।

Leave a Comment