बहुत जल्द भारत संचार निगम लिमिटेड देने जा रहा है उपभोक्ताओं को सुनहरा तोहफा, अक्टूबर के अंत तक बढ़ जाएगी इंटरनेट सेवा की स्पीड

बहुत जल्द भारत संचार निगम लिमिटेड के उपभोक्ता इंटरनेट स्पीड के कम होने की शिकायत से निजात पा लेंगे। भारत संचार निगम लिमिटेड के द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार कंपनी ने इंटरनेट की स्पीड को बढ़ाने का निर्णय लिया है और अपने फैसले पर कंपनी की ओर से काम भी शुरू कर दिया जा चुका है।

आपको बता दें इंटरनेट की स्पीड बढ़ाने हेतु कंपनी की ओर से सीपैन उपकरण लगाने का निर्णय लिया गया है। बीएसएनएल द्वारा लिए गए इस फैसले के तहत गोरखपुर व महाराजगंज जनपदों में भी सीपैन उपकरण लगाने का कार्य शुरू कर दिया जा चुका है। बीएसएनल के उप महाप्रबंधक आर एन यादव ने जानकारी साझा करते हुए बताया कि जितने भी टेलिफोन एक्सचेंज है  उन सभी में सीपैन लगाने का कार्य काफी तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है। आपको बता दें कि एक्सचेंज की क्षमता के अनुसार ही उनमें यह उपकरण लगाए जा रहे हैं।

गौरतलब है कि लगातार उपभोक्ताओं की ओर से इंटरनेट सेवा की धीमी स्पीड को लेकर आ रही शिकायत के मद्देनजर बीएसएनएल कंपनी ने इस समस्या से उपभोक्ताओं को निजात दिलाने हेतु यह फैसला किया है।  

उन शहरों की सूची जहां उपकरण लगाने का कार्य प्रगति पर है

  • गोरखनाथ
  • चौरीचौरा
  • पिपराइच
  • घूघली 
  • कैंपियरगंज 
  • पीपीगंज 
  • आनंद नगर 
  • नौतनवां 
  • महाराजगंज

 

इन क्षेत्रों में उपकरण लग जाने के बाद इंटरनेट की स्पीड में 5 से 10 गुना तक की वृद्धि देखने को मिल सकती है। आपको बता दें अब तक एफटीटीएस ग्राहकों को बीएसएनएल के ब्रॉडबैंड की स्पीड केवल 10 से 15 एमबीपीएस मिल रही थी, मगर सीपैन लगने के बाद यह स्पीड 10 से 15 एमबीपीएस से बढ़कर 40 से 50 एमबीपीएस हो जाएगी। वहीं कुछ ऐसे शहर भी है जहां पर यह उपकरण लगा दिया गया है, जैसे नंदानगर, दिव्यनगर तथा सिविल लाइंस, इन क्षेत्रों में यह उपकरण लगने के बाद यहां के उपभोक्ताओं द्वारा इंटरनेट की स्पीड में वृद्धि अनुभव की गई हैं।

मिली जानकारी के अनुसार अक्टूबर के अंत तक यह काम पूरा कर दिया जाएगा  जिसके बाद उपभोक्ता मानक के अनुरूप तीव्र गति की इंटरनेट सेवा अनुभव कर सकेंगे।

Leave a Comment