यूपी सरकार ने आरटीओ अधिकारियों के खिलाफ उठाया कठोर कदम, सुबह होते ही अधिकारियों को लगा झटका।

यूपी सरकार ने आरटीओ अधिकारियों के खिलाफ उठाया कठोर कदम, सुबह होते ही अधिकारियों को लगा झटका।

 

 

 

 

 

लखनऊ, ( कुलसूम फात्मा ) जी हां उत्तर प्रदेश सरकार ने आरटीओ अधिकारियों के लिए उठाया देर रात कठोर कदम जिससे सुबह होते ही अधिकारियों को मिला जोरदार झटका। सरकार ने आरटीओ अधिकारियों के ट्रांसफर का अचानक निर्णय लिया तो सुबह अधिकारी हैरत ज़दा हो गए।

 

 

मंगलवार की सुबह उत्तर प्रदेश सरकार ने आरटीओ अधिकारियों के ट्रांसफर की सूचना दी तो मुख्यालय में कार्यरत अमित राजन राय को एआरटीओ प्रवर्तन लखनऊ की पोस्ट पर भेज दिया गया है।  और दूसरी तरफ यूपी सरकार ने मुख्यालय में कार्यरत आलोक सिंह को एआरटीओ प्रशासन लखीमपुर खीरी भेजा है। रितु सिंह को प्रशासन ने उन्नाव ट्रांसफर कर दिया है। राजीव कुमार को एआरटीओ ने ललितपुर तबादला कर दिया है। इसके साथ ही आदित्य त्रिपाठी को प्रशासन ने अमरोहा भेज दिया है।

 

 

आरके सरोज को रायबरेली और सत्येंद्र कुमार यादव को आजमगढ़ ट्रांसफर करा है। इसी के साथ मोहम्मद अजीम भी इस आरटीओ ऑफिस में कार्यरत थे तो उनको कुशीनगर ट्रांसफर कर दिया। रघुवेंद्र सिंह को गाजियाबाद और सुरेंद्र सिंह को एआरटीओ प्रशासन ने रामपुर तबादला और विवेक शुक्ला को मिर्जापुर पद पर कार्यरत किया। इस तरीके से उत्तर प्रदेश सरकार ने कुल मिलाकर के 21 आरटीओ अधिकारियों के साथ अन्य के भी ट्रांसफर करें।

 

 

बता दें की इन अधिकारियों को 1 दिन पहले तबादले से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी नहीं थी। जब इन 21 आरटीओ अधिकारियों को तबादले की लिस्ट मिली तो यह है हैरानी से सूची निहारते रैह गए।

Leave a Comment