मायावती। व्यवस्था करें दुरुस्त

 लखनऊ।मायावती। व्यवस्था करें दुरुस्त जुगाड़ से नहीं हो पाएगा  कोरोना का उपचार। 

 लखनऊ।  मायावती। व्यवस्था करें  दुरुस्त  जुगाड़ से  नहीं हो पाएगा  कोरोना वायरस का उपचार। 

लखनऊ मायावती ने भी दिया है हिदायत बहुजन समाज पार्टी बसपा की सुप्रीमो उत्तर प्रदेश के बढ़ते हुए कोरोनावायरस के मामलों को देखते हुए उन्होंने दुख जाहिर करते हुए कहा कि जुगाड़ से नहीं हो पाएगा कोरोना वायरस का कोई उपचार इसका करें उचित प्रबंध। 

मायावती राज्य सरकार को देखते हुए दिया है हिदायत ऐसे कोरोना वायरस से कैसे लड़ पाएंगे सरकार कुछ कर  नहीं रही है।

बस हाथ पर हाथ रखकर बस बैठी हुई है। और कोरोना वायरस बढ़ता हुआ प्रभाव पूरे प्रदेश को अपनी चपेट में लेता जा रहा है। 

रोजाना  कोविड-19 के मरीज बढ़ते जा रहे हैं लोगों की मौतें होती जा रही हैं हॉस्पिटल में सुविधा नहीं है हॉस्पिटल में व्यवस्था नहीं है किसी हॉस्पिटल में छत से पानी गिर रहा है कि हॉस्पिटल में डॉक्टर खुद पैरवी लगाकर बेड  उपलब्ध करा रहे हैं। 

तथा इन सब समस्या का विवरण करते हुए मायावती ने कहा।

लखनऊ कोविड-19  
लखनऊ कोविड-19

पहली बार राज्य सरकार अपने कार्य में फेल होती जा रही है वह कोई ठोस कदम नहीं उठा पा रहे हैं जिससे कि हमारे प्रदेश की जनता को राहत मिल पाए तथा कोरोनावायरस कम हो पाए प्रशासन की व्यवस्था तथा राज्य सरकार भी इसमें नाकाम साबित होते जा रही है। 

 

मायावती ने कहा है कि इस जुगाड़ से नहीं उचित व्यवस्था से नियंत्रित किया जा सकता है। 

मायावती ने सोमवार को अपने का आबादी के हिसाब से देश के सबसे बड़े राज्य और गरीब एवं पिछड़े के लिए उनके लिए सरकार कुछ कर नहीं रही है।

हालांकि रविवार को उत्तर प्रदेश में कोविड-19 का रिकॉर्ड स्तर रहा 2250 मरीज मिले वहीं 1181 लोग ठीक होने के बाद डिस्चार्ज हुए जबकि 38 मरीजों की विभिन्न अस्पतालों में मौत हो गई।

उत्तर प्रदेश में अभी तक सबसे ज्यादा मरीजों की कुल संख्या 18000 हो गई कुल 29845 में जो कि अब तक डिस्चार्ज किया जा चुका है।

इसके अलावा पूरे उत्तर प्रदेश में अब तक की 1146 लोगों को कोरोना ने अपनी चपेट में लेते हुए मौत की नींद सुला दीया  है  .

उन्होंने यह भी अनुरोध किया है जनता से की इस महामारी में  राज्य सरकार का भी साथ दें तथा लोगों को कहा जरूरत की चीजें के लिए ही घर से बाहर निकले और जितने भी प्रोटोकॉल्स होते हैं उसक उसका पालन करें।  

Leave a Comment