लखनऊ चौक में हुआ हादसा बिलखती रह गई। पत्नी कोई बचा ना सका जान।

लखनऊ चौक में हुआ हादसा बिलखती रह गई। पत्नी कोई बचा ना सका जान।

 

 

 

राजधानी में एक नया हादसा नजर आया रिक्शा चालक हो गया था बेइंतेहा परेशान इसलिए पक्के पुल को लगाया उसने गले। पत्नी ने जब यह मंजर देखा तो रोती बिलखती रह गई, परंतु कुछ ना कर सकीे।  उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के चौक में स्थिति नये पक्के पुल पर से एक युवक ने कूदकर शुक्रवार के दिन जान दे दी। बता दें यह युवक रिक्शा चालक था

 

 

और पत्नी के सामने ही यह चौक के नए पक्के पुल पर से कूद गया। गोताखोरों से लाश को ढूंढ पाया गया परंतु अभी तक लाश नहीं मिल सकी है।  शुक्रवार के दिन ई रिक्शा चालक ने बैठी थी। रिक्शे में पत्नी के सामने ही पक्के पुल से छलांग लगा दी सहादतगंज का रहने वाला पुराना चबूतरा सुंदरलाल का बेटा ललित जिसकी शादी सीतापुर की रेनू के साथ 3 साल हो गए थे हुई थी। और इनका डेढ़ साल का एक बेटा भी है।

बताया जा रहा है की शुक्रवार को शाम के समय ललित अपनी पत्नी और अपने बच्चे को रिक्शे पर बिठाकर के खदरा ले जा रहा था। तभी उसने पक्के पुल के पास रिक्शे को रोका रिक्शा क्यों रोक रहे हो पत्नी ने पूछा तो उसने कहा की पुल में पैसे डालने हैं और वह पुल की दीवार पर चढ़ गया। पत्नी को कुछ समझ नहीं आया था तबतक , वह रिक्शे से उतरती के ललित नदी में कूद गया , चौक थाने की पुलिस सूचना पाते ही वहां पर फौरन पहुंची

 

पुलिस इंचार्ज ज्ञानेश सिंह से जब वार्तालाप हुई तो उन्होंने बताया की रेनू ने बताया है की उसका पति शराब भी पीता था और लड़ाई झगड़ा भी होती रहती थी। इसी विवाद में उसने यह कदम उठा लिया ।

Leave a Comment