लखनऊ ने किया नए पुलिस कमिश्नर का स्वागत , बदलेगी अब कानून व्यवस्था।

लखनऊ ने किया नए पुलिस कमिश्नर का स्वागत , बदलेगी अब कानून व्यवस्था।

 

लखनऊ,( कुलसूम फात्मा )  लखनऊ में सुजीत पांडे के नेतृत्व में पुलिस कमिश्नरेट व्यवस्था प्रारंभ की गई थी। अब जो पूरी तरीके से चलना प्रारंभ हो गई है सुजीत पांडे का कार्यकाल तकरीबन 10 महीने चला और इस कार्यकाल के बीच पुलिस ने काफी सफलताएं भी प्राप्त की हैं। परंतु अफवाह यह है के बंथरा में हुई जहरीली शराब कांड के कारण फौरन पुलिस आयुक्त सुजीत पांडे को हटा दिया गया है इस बारे में उच्च अधिकारी फिलहाल कुछ भी साफ साफ नहीं बता रहे हैं।

सुजीत पांडे ने लखनऊ पुलिस मुठभेड़ में अपराधियों को गिरफ्तार किया था। वहीं दूसरी तरफ अपराध की घटनाओं की यदि बात की जाए तो उस पर भी उन्होंने लगाम लगाई और सीएए तथा एनआरसी के चल रहे विरोध में प्रदर्शन को भी सुजीत पांडे ने बातचीत करके खत्म कराया था।

हालांकि इसके अलावा चोरी के साथ-साथ कंसाइनमेंट मिली। असल में साइबर अपराध की गांठ कसने में सफल नहीं हो पाए। यही नहीं अज्ञात शवों की खोजबीन करने के पश्चात पुलिस फेल भी साबित हुई।

लखनऊ में मंगलवार को पुलिस कमिश्नर डीके कुमार ने रात में पदभार प्राप्त कर लिया है। यही नहीं उन्होंने रात में सभी डीसीपी तथा जेसीपी कानून व्यवस्था की मीटिंग की और इसको सुधारने का निर्देश दिया। पुलिस आयुक्त ने यही नहीं पुलिस आयुक्त ने भी कानून व्यवस्था को और अच्छा बनाने के निर्देश के साथ-साथ महिलाओं की सुरक्षा को प्राथमिकता दी और पुलिस कमिश्नर के सामने साइबर अपराध पर पकड़ रखने की चुनौती ली।

Leave a Comment