लखनऊ पुलिस ने किया आरोपियों को गिरफ्तार, जाने गायक को किडनैप करने का था क्या कारण ?

लखनऊ पुलिस ने किया आरोपियों को गिरफ्तार, जाने गायक को किडनैप करने का था क्या कारण ?

 

 

 

 

लखनऊ, ( कुलसूम फात्मा )   सोमवार के दिन गायक कैसरबाग बस अड्डे से किडनैपर के द्वारा किडनैप कर दिया गया और जब वह घर नहीं पहुंचा तो उनके घर वाले काफी परेशान हुए पुलिस इस अपहरण के मामले की तफ्तीश करने में लगी थी। अंत में आरोपियों को उसने धर दबोचा।

 

गायक सोनू सिंह को लखनऊ के कैसरबाग बस अड्डे से 5 बदमाशों ने उठा लिया था। इस अपहरण के पश्चात उनके घर फोन करके इन लोगों ने 14 लाख रुपए की मांग की। इन किडनैपर की कॉल आने पर उसकी मां अत्यंत घबरा गई थी और उसने फौरन सर्विस लांस को सूचना दी तुरंत सर्विस लांस के जरिए छानबीन प्रारंभ हो गई।

डीएसपी पश्चिम देवेश पांडे से जब वार्तालाप की तो उन्होंने इस वार्तालाप के मध्य बताया की सोमवार के दिन लौलाई निवासी सोनू सिंह कैसरबाग बस अड्डे पर आया था। उसके पश्चात वह घर नहीं पहुंचा सूचना मिली के उसे वहां पर किडनैपर के द्वारा उठा लिया गया और उसकी मां जिनका नाम सुशीला है उनको फोन करके 15 लाख रुपए की मांग की गई।

 

 

फोन आने के पश्चात परिवार जनों ने सर्विस लांस की सहायता ली और छानबीन प्रारंभ हो गई। इंस्पेक्टर कैसरबाग दीना नाथ मिश्र तुंरत एक टीम लेकर के बिजनौर की ओर रवाना हुए। डीएसपी ने यह भी बताया की  गुरुवार को नूरपुर खेड़ी गांव में सोनू सिंह पाया गया।
अपराधी ओमवीर सिंह, उसके बेटे अमित तथा सुमित कुमार सिंह के साथ विशाल राही तथा अभिषेक कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

जाने आख़िर क्यों किया गया था अपहरण ?

 

डीएसपी एडीसीपी गौरव चौधरी ने बताया की कारण यह था की सोनू के पिता पप्पू ने ओमवीर सिंह विशाल राही तथा अभिषेक कुमार को नौकरी लगवा देने का झांसा दे कर 14 लाख रूपये ऐठ लिए थे। उन्होंने कहा था की सचिवालय और वन विभाग में नौकरी लगव देंगें। पिता पप्पू के साथ सोनू सिंह भी इस झांसे में सम्मिलित था आरोपी पिता-पुत्र ने तकरीबन 14 लाख रुपए ले कर यह लोग लखनऊ भाग गए और मोबाइल के नंबर को ऑफ कर दिया ।

Leave a Comment