लखनऊ में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई आदर्श व्यापार मंडल की हेल्पलाइन सेवा

लखनऊ: कोरोना काल के मद्देनजर लगाई गई लॉकडाउन की वजह से लोगों को कई तरह की मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। 

 इसी दौरान उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के व्यापारियों द्वारा सामना की जा रही कई सारी समस्याओं की घटना सामने आई जिस के निवारण हेतु उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा द्वारा उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल की हेल्पलाइन सेवा आज यानि सोमवार से शुरू कर दी गई।

आइए डालते हैं एक नजर क्या होगा इस हेल्पलाइन का प्रारूप – 

जारी की गई इस हेल्पलाइन सेवा की मदद से व्यापारियों को कई तरह की मुसीबतों से निजात मिल जाएगा। बात अगर इस हेल्पलाइन के प्रारूप की करें तो मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें जो भी व्यापारी अपनी समस्या या शिकायत दर्ज कराएंगे तो उन्हें पहले अपने व्यापारी होने का प्रमाण पत्र व्हाट्सएप या ईमेल के माध्यम से साझा करना होगा। इसके अलावा व्यापारी द्वारा दर्ज की गई शिकायत या समस्या लिखित रूप में उन्हें ईमेल या व्हाट्सएप के माध्यम से भेजी जाएगी।

इस हेल्पलाइन के जरिए केवल व्यापारिक समस्याओं को ही संकलित किया जाएगा। बात अगर इस हेल्पलाइन की समय सीमा की करें तो आपको बता दें प्रतिदिन प्रातः 11:00 बजे से शाम के 6:00 बजे तक मोबाइल फोन पर व्यापारी फोन करके अपनी अपनी समस्या बता सकते हैं। इसके अलावा वह व्हाट्सएप या ईमेल के माध्यम से भी अपनी समस्या को भेज सकते हैं। इन सबके अलावा जितने भी फोन कॉल या व्हाट्सएप चैट इस दौरान किए जाएंगे उनके रिकॉर्ड भी लंबे समय तक सुरक्षित रखा जाएगा।

यह सुविधाएं केवल यही तक सीमित नहीं रहती हैं, आपको बता दें चार्टर्ड अकाउंटेंट, कर सलाहकार, विभिन्न क्षेत्रों के विधि विशेषज्ञ अधिवक्ता, सेवानिवृत्त आईएएस, आईपीएस, पीपीएस अधिकारियों का भी सहयोग इस हेल्पलाइन में लिया जाएगा। इनके अलावा लखनऊ शहर की 50 अलग-अलग क्षेत्रों के एक्सपोर्ट पदाधिकारी भी व्यापारी हेल्पलाइन में अपना अपना योगदान देंगे।

इन सब में जो सबसे रोचक बात है वह यह कि इस हेल्पलाइन सेवा का कोई भी शुल्क व्यापारी को नहीं देना होगा। हालांकि उन्हें इस बात का ध्यान रखना होगा कि रविवार को यह हेल्पलाइन सेवा बंद रहेगी।

जारी किया गया हेल्पलाइन एवं व्हाट्सएप नंबर – 8400124444 (संपर्क करने का समय प्रातः 11 बजे से शाम 6 बजे तक)

ईेमेल आईडी-adarshvyaparmandai2004@gmail.com

 

मिली जानकारी के अनुसार जैसे ही यह सुविधा आज यानी सोमवार से शुरू की गई तो इस हेल्पलाइन नंबर पर सबसे पहला फोन इटावा के सर्राफा व्यापारी का आया। व्यापारी ने फोन करके उनके शस्त्र लाइसेंस में आ रही दिक्कत के विषय में अवगत कराते हुए इस परेशानी को जल्द से जल्द दूर करवाने का अनुरोध किया।

आपको बता दें हेल्पलाइन नंबर पर आई सबसे पहली फोन को स्वयं प्रदेश के डिप्टी सीएम ने उठाया और इस व्यापारी की इस समस्या को लेकर इटावा के जिलाधिकारी से बात करके व्यवसाय के शस्त्र लाइसेंस को तत्काल निर्गत करने का निर्देश जारी किया।

Leave a Comment