लखनऊ वासियों के लिए खुशखबरी अब फर्राटे मारेंगे इलेक्ट्रानिक्स वाहन।

लखनऊ वासियों के लिए खुशखबरी अब फर्राटे मारेंगे  इलेक्ट्रानिक्स वाहन।

 

 

 

लखनऊ,( कुलसूम फात्मा )  उत्तर प्रदेश सरकार ने इलेक्ट्रिक व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग तथा मोबिलिटी पॉलिसी इसी वर्ष 2019 से लागू कर दी है लखनऊ में ही नहीं बल्कि पूरे उत्तर प्रदेश में इस पॉलिसी को लागू किया गया है। आने वाले समय में इलेक्ट्रिकल वाहन का इस्तेमाल निजी और पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन तेजी के साथ बढ़ता नजर आएगा।

 

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ही नहीं बल्कि अब पूरे उत्तर प्रदेश में यूपी सरकार ने इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी को लागू कर दिया है। इसी कारण पूरे प्रदेश में राज्य सरकार ने सभी एक्सप्रेस मार्ग पर चार्जिंग स्टेशन बनाने के कार्य में नोडल आर्गेनाइजेशन भी बना दी है ।अब उत्तर प्रदेश में एक्सप्रेस मार्ग पर इलेक्ट्रिकल वाहन पूर्ण रूप से दौड़ने के लिए तैयार हो जाए। क्योंकि इसका प्रारंभ 301 किलोमीटर लंबे आगरा और लखनऊ एक्सप्रेस मार्ग से किया जा रहा है।

 

यूपी सरकार यहां पर दोनों ओर तकरीबन 40 चार्जिंग स्टेशन को बनवाने जा रही है। इसके साथ ही यहां पर तीन पहिया और चार पहिया के वाहन चार्ज किए जा सकेंगे। इसके पश्चात इसी तरीके से स्टेशन पूर्वांचल तथा बुंदेलखंड एक्सप्रेस मार्ग पर जल्द बनाए जाएंगे।

 

यूपी इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी यूपीडा ने इस प्रस्ताव को केंद्र सरकार के ऊर्जा मंत्रालय में भी भेज दिया है और लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे के नोडल अधिकारी रविंद्र गोडबोले से जब बातचीत की तो उन्होंने बताया की एक्सप्रेस मार्ग पर यह वाहनों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ती नजर आ रही है। आने वाले वक्त में यह संख्या इलेक्ट्रिकल कार तथा बसों के रूप में तब्दील जल्द ही हो जाएंगी। इसलिए चार्जिंग स्टेशन का बनना बहुत ही आवश्यक है।

सर्वप्रथम तो सेंट्रल गवर्नमेंट प्रपोज्स के अनुसार लोकेशन पर सर्वेक्षण करेगी। और देखेगी की यह स्थान सही है भी या नहीं। इसके पश्चात पीपीपी मोड पर पूरी तरह से तैयार किया जाएगा। यूपी सरकार तकरीबन यह चार्जिंग स्टेशन 1000 बनाने की तैयारी में लगी हुई है। प्रदेश में 1.5 लाख रजिस्ट्रेशन इलेक्ट्रिक वाहन के हो चुके हैं। इसलिए मार्केट में भी इलेक्ट्रिक कार ई रिक्शा और स्कूटर अन्य की मांग बढ़ रही है। इन सब को देखते हुए सरकार ने सुझाव दिया है कि अब इलेक्ट्रिक बसों का भी संचालन किया जाए जिससे के प्रदूषण में कमी आए ।

Leave a Comment