लखनऊ शहर के आवास पर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ने प्रति मंडल से मुलाकात की और किसानों को हो रही समस्याओं केकुछ महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा कर जानकारी दी। 

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ने शिष्टमंडल से मुलाकात कर,कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा कर जानकारी दी। 
लखनऊ, ( कुलसूम फात्मा ) लखनऊ शहर के आवास पर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ने प्रति मंडल से मुलाकात की और किसानों को हो रही समस्याओं के विषयों पर चर्चा की।
भारत की जमीन का एक तिहाई हिस्सा 9.7 करोड़ से 10 करोड़ हेक्टेयर के मध्य जमीन डिग्रेडेड है और जमीन के इस डीग्रेड होने से जमीन की जैविक तथा आर्थिक उत्पादकता कम होने लगती है। दूसरी तरफ पैदावार भी कम होती है और जिससे किसान की मेहनताना भी नहीं निकल पाता है और इसका किसान की आय पर भी फर्क पड़ता है
इसके साथ ही जो छोटे किसान हैं जिनके पास कम जमीनें हैं, उनकी तो रोजी-रोटी पर बन आती है। रोजगार के अवसर कम होते हैं। और ऐसे किसान गांवों में शहरों की तरफ भागने लगते हैं और वहां पर जाकर के रोजी़ रोटी हासिल करते हैं इस तरह से पूरा पर्यावरण सिस्टम ही बदलने लगता है। जमीन के डिग्रेशन के कारण देश को 4600 करोड़ अमेरिकी डालर का नुकसान हर साल हो रहा है और यही नहीं वक्त रहते इस बड़ी समस्या का हल नहीं निकला तो तो विश्व की जमीन का एक बड़ा हिस्सा मरुस्थल में बदल जाएगा।
उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त 2019 को स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले पर नागरिकों को संबोधित करते हुए पर्यावरण से संबंधित खेती पर जो समस्याएं आ रही हैं, उनके समाधान के लिए रसायनिक उर्वरकों तथा कीटनाशकों के उपयोग को धीरे धीरे कम करने और उनके प्रयोग को बंद करने से संबंधित  जागरूकता फैलाई जाएगी कहा था
उन्होंने बताया कि कृषि क्षेत्र से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करने के लिए। योजनाओं को भी लागू किया गया है जैसे की –
फसल बीमा के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना,
 कृषि उत्पादकता में सुधार लाने के लिए प्रधानमंत्री किसान सिंचाई योजना ,
और कृषि पदार्थों की खरीद प्रणाली में कमियों को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री अन्नदाता आय संरक्षण अभियान और न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना के अंदर कई कृषि पदार्थों के  समर्थन के मूल्य को उत्पादन की लागत के 1.5 गुना तक के बढ़ाया जा रहा है। यह किसानों को एक बंधी हुई आय सहायता देने के लिए , प्रधानमंत्री किसान योजना आदि उपलब्ध कराई गई हैं।

Leave a Comment