दूसरे दिन भी जारी रहा विद्युत अभियंताओं द्वारा किया जा रहा हड़ताल, लगातार दुसरे दिन भी शहर के घरों से बिजली रही नदारद

लखनऊ: अपनी मांगों की पूर्ति हेतु कार्य का बहिष्कार कर रहे विद्युत अभियंताओं ने लगातार दूसरे दिन यानी आज भी विद्युत अभियंता महासंघ के आवाह्न पर अपने अपने कामों पर वापस लौटने से इनकार कर दिया और हड़ताल पर डटे रहे।

विद्युत अभियंताओं द्वारा किए जा रहे कार्य बहिष्कार की वजह से शहर के कई जगहों पर बिजली नदारद रही। हाल ऐसा है कि शहर के दुकानदार भी दिन के वक्त ही अपना कामकाज समेट कर वापस घर की ओर रुख कर रहे हैं। क्योंकि बिजली के अभाव में काम करना काफी मुश्किल हो गया है।

मिली जानकारी के अनुसार अभियंताओं द्वारा किए जा रहे इस हड़ताल या उनके कार्य बहिष्कार की वजह से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के लगभग 30 फ़ीसदी उप केंद्रों की बिजली प्रभावित हो रही है। इन सबके अलावा राजभवन खंड से पोषित रोड उपकरण की बिजली 22 घंटे के बाद भी वापस से चालू नहीं हो सकी। वही बात गोमती नगर विश्वास खंड कीर्ति 30 केवी लाइन की करें तो वहां भी ब्रेकडाउन शुरू हो गई है।

आपको बता दें साझा की गई जानकारी के अनुसार राजभवन उप केंद्र और विश्वास खंड उप केंद्र में संविदा कर्मियों के हवाले अनूप केंद्र की बातें मोर्चा संभाले हुए हैं। इस विषय पर प्रदीप कक्कड़ जो की मुख्य अभियंता है ने बयान जारी कर बताया कि चूंकि मौजूदा हालात में विद्युत अभियंताओं द्वारा कार्य बहिष्कार कर दिया गया है तो ऐसी परिस्थिति में संविदा कर्मियों के सहारे ही बिजली घर चलाने को विवश हैं।

इसके अलावा उन्होंने यह जानकारी भी साझा की जिसमें उन्होंने बताया कि इस विषय पर उच्च स्तर पर बैठक चल रही है। ऐसे अनुमान लगाए जा रहे हैं कि शाम तक इन सभी विषयों पर फैसला आ सकता है। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि अगर विद्युत अभियंताओं की मांगों को पूरा कर लिया जाए तो वह अपने कार्य पर पुनः लौट सकते हैं जिससे शहर में बिजली को लेकर पैदा हुई संकट दूर हो जाएगी।

Leave a Comment