लखनऊ की आबोहवा फिर से हुई जहरीली , प्रदूषित शहरों में लखनऊ हुआ 24वें स्थान पर।

लखनऊ की आबोहवा फिर से हुई जहरीली ,
प्रदूषित शहरों में लखनऊ हुआ 24वें स्थान पर।

 

 

जैसे-जैसे तापमान में गिरावट आता जा रहा है, प्रदूषण भी अपना रंग दिखाने में कहीं से पीछे नहीं हट रहा है।
प्रदूषण से हवा की गुणवत्ता पर गहरा असर पड़ रहा है
जिससे कि लोगों पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है।
रविवार को यह गुणवत्ता इतनी ज्यादा खराब हुई के हवा की गुणवत्ता का रंग नारंगी से लाल निशान पर पहुंच गया।
सभी प्रदूषित शहरों के साथ-साथ लखनऊ फिर से 24वें स्थान पर रहा। और लखनऊ के अलावा अन्य प्रदेशों में भी हवा की गुणवत्ता नारंगी से लाल निशान पर पहुंची ।

 

जाने कितना रहा एक्यूआई ?

 

लखनऊ का एक्यूआई चेक करने के बाद केंद्रीय प्रदूषण बोर्ड की मॉनिटरिंग में बताया गया कि शनिवार के एक्यूआई से तुलना की जाए तो रविवार के एक्यूआई में 50 पॉइंट की वृद्धि हुई।
शनिवार को एक्यूआई लखनऊ में 264 माइक्रोग्राम था
जो रविवार को बढ़कर 314 हो गया। यदि ग्रेटर नोएडा के संबंध में बात की जाए तो ग्रेटर नोएडा में हवा की गुणवत्ता पर और भी खतरनाक असर पड़ा यहां का एक्यूआई 392 माइक्रोग्राम रहा और इसकी गुणवत्ता खतरनाक स्थिति में पहुंचने से केवल 8 पॉइंट ही पीछे हैं।

अन्य शहरों का एक्यूआई

 

बुलंदशहर का 346
बागपत का 369
आगरा शहर का 309
हापुड़ का 331
गाजियाबाद का 379
मेरठ का 369
मुरादाबाद का 363
और नोएडा का 362
एक्यूआई रहा जिसके कारण यहां की गुणवत्ता बहुत ही खराब श्रेणी में रखी जा रही है ।
यहां की हवा की गुणवत्ता इस कदर खराब हो जाने के कारण जो सांस की बीमारी के मरीज हैं उन पर प्रभाव बुरा पड़ सकता है।

Leave a Comment