कोनोर मैकग्रेगर | फोर्ब्स | मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स महान फाइटर कोनोर मैकग्रेगर फोर्ब्स द्वारा जारी वर्ल्ड के 10 अमीर एथलीट्स में अधिक कमाई करने वाले एथलीट हैं

कोनोर मैकग्रेगर
नमस्कार दोस्तों , स्वागत है आप सभी का  आपके  चैनल  bloggingi.com में, जहाँ पर आप देख सकते हैं बेस्ट ऑफ़ बेस्ट वर्ल्ड क्लास मोटिवेशनल  or  book summaries | आज मैं आपके लिए एक नया वीडियो लेकर आया हूँ JO HAI मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स KE महान  फाइटर कोनोर मैकग्रेगर KE BAARE ME

मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स महान  फाइटर कोनोर मैकग्रेगर फोर्ब्स द्वारा जारी वर्ल्ड के 10 अमीर एथलीट्स में अधिक कमाई करने वाले एथलीट हैं. इस साल उन्होंने सबको पीछे छोड़ते हुवे यह मुकाम हासिल किया है

फोर्ब्स के अनुसार, कोनोर मैकग्रेगर की कमाई 1325 करोड़ रुपये है. उनके बाद मेसी का नंबर है. मेसी की कमाई 130 मिलियन डॉलर है. मैकग्रेगर की कमाई से 50 मिलियन डॉलर कम है. रोनाल्डो की कमाई 120 मिलियन डॉलर है. दोस्तों अगर आप रोनाल्डो के बारे जानना चाहते है तो comment kare !
तो चलिए जानते है इस महान फाइटर के बारे में

कोनोर मैकग्रेगर
कोनोर मैकग्रेगर

कॉनर मैकग्रेगर का जन्म 1988 में हुआ था पैदाइशी वह बहुत गरीब थे उनके माता-पिता एक मामूली वर्कर थे जिससे उनकी आमदनी इतनी नहीं हो पाती थी कि वह एक अच्छी जिंदगी गुजार पाए लेकिन उनकी जितनी भी आमदनी थी कॉनर मैकग्रेगर की और उनकी बड़ी बहन की परवरिश में लग जाती थी  यह कहानी नोटोरियस कॉनर मैकग्रेगर की है

कॉनर मैकग्रेगर मार्शल आर्ट के बेताज बादशाह है अपने शुरुआती समय में कॉनर मैकग्रेगरने  कड़ा संघर्ष और गरीबी देखने के बाद आज दुनिया के सबसे अमीर और पॉपुलर खिलाड़ी बने हुए हैं आज करोड़ों लोगों को उनकी तरह बनने के लिए के वो प्रेरित करते हैं।

आयरिश में नोटोरियस का मतलब होता है ,कुख्यात जालिम.जो इनके नाम के शुरुआत में ही लगा हुआ है और इनका पूरा नाम कॉनर मैकग्रेगर  हैं फाइटिंग के दौरान अपने प्रतिद्धंदी को धूल चटाने में कोई कसर नहीं छोड़ते- फाइटिंग के दौरान इनका कॉन्फिडेंस देखते ही बनता है।

उन्होंने अपना बचपन क्रमलिन जैसे छोटे शहर में बिताया एक शहर से दूसरे अजनबी शहर में जाने के कारण वहां उनके कोई दोस्त नहीं थे ना उनको कोई जानने वाला था जिस वजह से नए जगह नए लोग नहीं स्कूल स्कूल जाते थे पढ़ाई के दौरान वहां पर उनसे मजबूत बच्चे उन्हें मारा-पीटा करते थे जिस वजह से 1 दिन बहुत ज्यादा बुरी तरह से घायल हो गए थे तब उसके पिताजी ने उन्हें  बताया कि जब तुम पैदा हुए थे तो मुट्ठी बांध के पैदा हुए थे तुम by बोर्न फाइटर हो तुम जन्मजात फाइटर हो तुम्हें किसी से डरना नहीं है तुम्हें डटकर मुकाबला करना है तो  उसी दिन से कॉनर मैकग्रेगर  के  मन में यह घर कर गया कि मैं तो फाइटर हूं मुझे कोई हरा नहीं सकता जिस वजह से वह दुनिया के विश्व प्रसिद्ध फाइटर बन पाए आज उनके नाम के सारे रिकॉर्ड हैं जो आने वाले टाइम में  कोई नहीं तोड़ सकता

हालांकि उनके पिताजी ने बाद में उन्हें बताया कि फाइटर लाइन में कोई करियर नहीं है वह परेशान रहते थे कि कॉर्नर फाइटिंग में ज्यादा ध्यान देने लगे थे और बाकी सारी चीजें छोड़ चुके थे
हालाँकि कि उन्हें  कुछ दिन तक प्लम्बर  काम भी  करना पड़ा था

कॉनर मैकग्रेगर लिए यह जॉब अच्छी नहीं थी इस वजह से फ़्रस्टेड हो गए थे  लेकिन कई मुश्किलों के बावजूद भी वह अपने मनपसंद फाइटिंग  को छोड़ा नहीं और प्रॉब्लम का  डटकर सामना करते रहे और प्रैक्टिस करते रहे जो आज उनको return मिला कॉर्नर ने अपने जीवन का एक छोटा सा पहलू शेयर किया था कि जब एक बार अपनी खटारा गाड़ी से धक्का मारने वाली गाड़ी से कहीं जा रहे थे तो एक बार वह गाड़ी ट्रैफिक के बीचो बिच लंबी  ट्रैफिक में बंद हो गई थी और उस दौरान उसकी गाड़ी स्टार्ट नहीं हो रही थी तभी पीछे से कई लोग होरन मार रहे थे परेशान कर रहे थे गालियां दे रहे थे मैकग्रेगर  परेशान होने लगे थे लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और तभी वह गाड़ी में बैठे बैठे सपना देखने  लगे एक दिन मैं मर्सिडीज कार पर घूम रहा हूं और दुनिया वाले मुझसे ऑटोग्राफ मांग रहे हैं

कोनोर मैकग्रेगर फोर्ब्स
कोनोर मैकग्रेगर फोर्ब्स

यह बात उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में कहा था जिसे आज उन्होंने पूरा कर लिया है उन्होंने कहा कि लॉ ऑफ अट्रैक्शन वह मानते हैं
वह अपने आप को हर रोज कहते है में नंबर वन हूं मुझे कोई हरा नहीं सकता है में ताकतवर हूं और वह वाकई में है

उनका कहना है कि जब कोई अपने अंतर आत्मा से सोचते है वैसा ही रिएक्ट करता है जो उसे चाहिए उसके बारे में सोचता है मन से काम करता है तो वह चीज को वह हासिल कर लेता है आज उनके पास ना पैसे की कमी है ना ही और किसी चीज की कमी है

तो  दोस्तों इस के साथ हमारा यह story  यही कम्पलीट होता है  | मुझे उम्मीद है कि यह article आपको जरूर पसंद आया होगा  | तो  इस  को like करें और अपने friends और  family के  बिच  इस को share करें हो  सकता है की आपके एक शेयर से उनकी प्रॉब्लम सोल्व हो जाये। और ऐसे ही interesting और  बेस्ट वर्ल्ड क्लास मोटिवेशनल  OR   book summaries देखने के लिए हमारे चैनल को subscribe करें | मैं जल्द ही आपके लिए एक नया video लेकर आऊंगा, TAB TAK KE LIYE THANKS

देश में कोरोना से दो नहीं, 6 लाख लोगों की हुई मौत, स्टडी में चौंकाने वाला दावा .

देश में कोरोना से दो नहीं, 6 लाख लोगों की हुई मौत, स्टडी में चौंकाने वाला दावा

 

कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश को झकझोर कर रख दिया है। भारत में तेजी से कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है, जबकि मृतकों का आंकड़ा भी रोजाना रिकॉर्ड तोड़ रहा है। वैश्विक महामारी के इस दौर में कई बार मरने वालों के आंकड़ों को छिपाए जाने का भी सरकार पर आरोप लगा है। हाल ही में सामने आई एक स्टडी ने ऐसा दावा किया है, जो इन आरोपों को सही साबित कर रही है। दरअसल, स्टडी में कहा गया है कि भारत, अमेरिका समेत कई देशों में कोरोना से मरने वालों की संख्या कई गुना अधिक है। सरकारी आंकड़े काफी कम हैं। भारत में यह संख्या वास्तविक रूप से छह लाख से अधिक बताई गई है, जबकि सरकारी आंकड़ों की माने तो अब तक देश में दो लाख से ज्यादा मरीजों की कोविड-19 संक्रमण से मौत हो चुकी है।

यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मैट्रिक एंड इवेल्यूऐशन (IHME) ने यह स्टडी की है, जिसमें दावा किया गया है कि कई देशों ने कोरोना मृतकों का आंकड़ा काफी कम करके दिखाया है। इसके अनुसार, कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए अमेरिका में 9 लाख से ज्यादा लोगों की संक्रमण की वजह से जान चली गई। जबकि सरकार ने यह आंकड़ा 5.7 लाख का बताया है। महामारी की वजह से दूसरे नंबर पर सबसे ज्यदा हुए भारत में कोरोना मृतकों का आंकड़ा 6.5 लाख बताया गया है, जबकि आधिकारिक रूप से यह 2.2 लाख ही है। इस हिसाब से तीन गुना ज्यादा लोगों की मौत कोरोना के चलते हुई है।

 

टाइम्स ऑफ इंडिया ने स्टडी के हवाले से बताया है कि मैक्सिको ने जानकारी दी है कि उनके देश में कोरोना से 2.17 लाख लोगों की जान गई है, जबकि असल में यह संख्या 6.17 लाख है। वास्तविक आंकड़े सामने नहीं आने के पीछे वजह बताई गई है कि ज्यादातर देशों में वे ही मौतें दर्ज हो पाती हैं, जोकि अस्पतालों में होती हैं।

 

रिपोर्ट में कहा गया है, ”रूस और मिस्त्र में भी कोरोना के सरकारी आंकड़े काफी गलत हैं। रूस में पांच गुना ज्यादा लोगों की मौत हुई है, जोकि 1.09 लाख है। वहीं, मिस्त्र में यह संख्या 1.7 लाख तक हो सकती है, जोकि उसकी सरकारी संख्या की तुलना में 13 गुना ज्यादा है। हालांकि, रिपोर्ट में चीन का कोई जिक्र नहीं किया गया है। चीन में कोरोना से अभी तक 4,636 लोगों की जान गई है, लेकिन ज्यादातर देशों का मानना है कि चीन ने गलत आंकड़े पेश किए हैं। वास्तविक तौर पर कोरोना से चीन में बड़ी संख्या में जान गई है, लेकिन शी जिनपिंग सरकार ने आंकड़ों से खेल किया है।

देश में पहली बार सामने आए 4,14,188 नए मामले
भारत में कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड 4,14,188 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 2,14,91,598 हो गए जबकि देश में 36 लाख से अधिक मरीज अब भी इस बीमारी की चपेट में हैं। यह एक दिन में किसी भी देश में मिले कोरोना संक्रमितों की संख्या के मामले में सबसे ज्यादा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार को सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 3,915 लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या 2,34,083 हो गई है। लगातार बढ़ते मामलों के बीच उपचाराधीन मरीजों की संख्या 36,45,164 हो गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.96 प्रतिशत है जबकि देश में कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर घटकर 81.95 प्रतिशत हो गई है।

खुशख़बरी लखनऊ वासियों के लिए शुरू हो गई नई सेवा।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में  आज से शुरू हो गई पिंक सेवा ये  पिंक सेवा लखनऊ से जयपुर के बीच शुरू हो रही है। 

पिंक सेवा में बसे आप सीधा लखनऊ से जयपुर के लिए पकड़ सकेंगे हालांकि मिली जानकारी के अनुसार  पिंक बस सेवा कल से यानी मंगलवार से प्रारंभ कर दी जाएगी।

जिसमें कोई भी यात्री अपनी सुविधा अनुसार इसमें समय रहते टिकट बुक करा कर जा सकेंगे 16 फरवरी से पिंक सिटी के लिए पिंक बस चलेगी आलमबाग टर्मिनल से जयपुर के लिए। 

मिली जानकारी के अनुसार काफी दिनों से जयपुर जाने के लिए यात्रियों में काफी परेशानियों का माहौल था। 

तथा काफी दिनों से इस बस की मांग हो रही थी जिससे यातायात परिवहन निगम ने इसे मध्य नजर रखते हुए लोगों की सुविधानुसार पिंक बस सेवा शुरू कर दी है।

 पिंक बस सेवा इसका नाम रखा गया है क्योंकि पिंक सिटी के नाम से मशहूर जयपुर सिटी का नाम कहलाती है।

जिसे दुनिया में  छवि प्राप्त है  हालांकि मिली जानकारी के अनुसार आलमबाग से यात्री बस का इसका रोज लाभ उठा पाएंगे।

इसमें कुछ खास बात यह है।

कि दोनों ओर से एक ही समय यानी रात 7:00 बजे पिंक बस अपनी लक्ष्य कि और रवाना होगी इसका सफर करीब 12 घंटे का होगा।

इस दौरान ये रोडवेज सेवाएं 599 किलोमीटर की दूरी तय करेगी राजधानी लखनऊ से जयपुर की ओर जाने वाली है पिंक बस सेवा आलमबाग टर्मिनल से रोज शाम चलकर तकरीबन सुबह  5:00 बजे जयपुर पहुंचेगी।

वापसी में जयपुर के सिंधी कैंप स्थित बस स्टेशन से प्रतिदिन शाम 7:00 बजे लखनऊ की और चलेगी।

हालांकि जानकारी के अनुसार इसमें ऑनलाइन बुकिंग की भी सुविधा जारी रख दी गई है और यात्री काफी ऑनलाइन बुकिंग भी कर चुके हैं।

और इसकी बुकिंग कल से ही शुरु हो चुकी है हालांकि अभी निर्धारित किराया इसका 1171 रुपए आकलन किया गया है जो यात्रियों को सुविधा अनुसार प्रदान किया जा रहा है।

लखनऊ वासियों के लिए जरूरी जानकारी फरवरी में बहुत सारी Train करने होंगे रद्द !

लखनऊ वासियों के लिए जरूरी जानकारी फरवरी में बहुत सारी Train करने होंगे रद्द !

जिस वजह से यात्रियों को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ेगा ट्रेनें रद्द हो रही हैं।

हम बताएंगे आपको कि कौन सी ट्रेन है कहां पर होंग रद्द।

कोहरा की वजह से ट्रेनें रद्द होती जा रही हैं क्योंकि इस घने कोहरे में ट्रेन चलाना यह खतरनाक साबित हो सकता है। कुछ ट्रेन 31 जनवरी तक रद्द किया  गया था।

आपको बता दू यह साड़ी जानकारी रेलवे द्वारा लिया गया है।

रेलवे बोर्ड के नए आदेश के दौरान ट्रेन 02571 गोरखपुर आनंद विहार एक्सप्रेस स्पेशल स्पेशल 3 से 28 फरवरी तक बुधवार रविवार निरस्त रहेंगी।

इसी तरह की ट्रेन वापसी में 02572  आनंद विहार गोरखपुर एक्सप्रेस स्पेशल 4 फरवरी से 1 मार्च तक सोमवार को गुरुवार को निरस्त रहेंगी।  वही 02534 नई दिल्ली वैशाली सुपरफ़ास्ट स्पेशल दो 23 फरवरी तक मंगलवार को निरस्त रहेंगी।

जबकि 02554 नई दिल्ली सहरसा वैशाली सुपरफास्ट स्पेशल 3 से 24 फरवरी तक प्रत्येक बुधवार को नहीं चलेगी जबकि ट्रेन 02779 आगरा फोर्ट लखनऊ जंक्शन इंटरसिटी एक्सप्रेस स्पेशल 6 से 28 फरवरी तक प्रत्येक शनिवार को और रविवार को संचालित नहीं की जाएगी यही ट्रेन 02180 लखनऊ जंक्शन आगरा फोर्ट इंटरसिटी बी 6 से 28 फरवरी तक शनिवार एवं रविवार को निरस्त रहेगी। 

 

 रेलवे ट्रेन 01803 झांसी लखनऊ इंटरसिटी और 01804  लखनऊ जंक्शन झांसी इंटरसिटी स्पेशल को 6 से 28 फरवरी तक प्रत्येक शनिवार रविवार को निरस्त करेगा जबकि 02557 मुजफ्फरपुर आनंद विहार सप्त क्रांति एक्सप्रेस स्पेशल 3 से 24 फरवरी तक बुधवार को और वापसी में 0258 आनंद विहार मुजफ्फरपुर  सप्त क्रांति एक्सप्रेस  स्पेशल से 4 से 25 फरवरी तक करेगी यह जानकारी रेलवे द्वारा दी गई है। 

लखनऊ वासियों के लिए एक बड़ा अपडेट लखनऊ में आज से रास्ते हो जायेंगे बंद।

लखनऊ वासियों के लिए एक बड़ा अपडेट लखनऊ में आज से रास्ते हो जायेंगे बंद।

कल 26 जनवरी है इस 26 जनवरी के होने वाले प्रोग्राम में कई तरह की झांकियां निकलेंगे और कई तरह की रंगारंग कार्यक्रम होंगे जिसे मध्य नजर रखते हुए आज सोमवार दोपहर के बाद से आम जनता की वाहनों को निगरानी तथा रोक लगा दी जाएगी।

जिसके लिए चौराहे पर रॉयल होटल चौराहे और जीपीओ पार्क के पास बैरिकेडिंग लगाई जा रही है। 

वही त्रिलोकीनाथ रोड से भी वाहन विधानसभा मार्ग पर नहीं जा सकेंगे डीसीपी ट्रैफिक द्वारा या जानकारी हमारी टीम के साथ साझा की गई है। जिसे हम लोग उचित समय पर लखनऊ वासियों को अवगत करा रहे हैं।

जिसे उन्हें खासा दिक्कत ना हो पाए कल 26 जनवरी के अंतर्गत बहुत सारे रास्ते लखनऊ में बंद रहेंगे जाने कौन सा रास्ता खुला रहेगा कौन सा रहेगा बंद। 

गणतंत्र दिवस के दौरान मंगलवार सुबह से यातायात व्यवस्था बिल्कुल आम हो जाएगी जैसे पहले हुआ करती थी पैरेड  सुबह बाल विद्या मंदिर से शुरू होकर केडी दक्षा स्टेडियम में संपन्न होगा।

इस कार्यक्रम के दौरान परेड मार्ग पर सामान्य वालों का आवागमन बिल्कुल प्रतिबंधित रहेगा वाहन चालकों को वैकल्पिक मार्ग से गुजर ना होगा।

Lucknow police
Lucknow police

यह जानकारी डीसीपी ट्रैफिक ने हमारी टीम से साझा की है।

नावेल्टी लालबाग चौराहा के दौरान वाहनों के आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगी केवल कार पास वाले वाहन चालक वाहनों को पार करने के लिए जा सकेंगे।

बाल विद्या मंदिर चारबाग से हजरतगंज चौराहे तक की व्यवस्था रहेगी इधर नहीं जा सकेंगे।

आलमबाग औरैया से आने वाले वाहन की और डीएवी कॉलेज से मंडी की और का के तिराहे से चारबाग राणा प्रताप चौराहे की ओर

एवं कुंवर जगदीश चौराहे चौराहे की प्रताप चौराहे से छितवारापुर चौकी के किसी एवं चारबाग की और हीवेट रोड चौराहे से राणा प्रताप चौराहे की और

Lucknow police
Lucknow police

उदय गंज हर संचाई भवन से एनेक्सी आने वाली वाहनों की विधान भवन की ओर सदर और ब्रिज से आने वाले वाहन हुसैनगंज की राशि केसरबाग की ओर

बंदरिया बाग चौराहे से वाहन हजरतगंज की ओर कैसरबाग चौराहे से हुसैनगंज चौराहा अथवा बाबू भवन की ओर

नोट

सिर्फ कार पास वाले वाहनों को सचिवालय विधानसभा के पीछे वाले द्वार से सचिवालय के अंदर प्रवेश की अनुमति होगी कार पास वाले ही वाहन बंदरिया बाग से विधान भवन के पीछे से गेट नंबर 7 के अंदर जा सकेंगे।

 

लखनऊ के क्षेत्र जानकीपुरम में लग गई आग इस आग में कुल परिवार के लोग।

लखनऊ के क्षेत्र जानकीपुरम में लग गई आग इस आग में कुल परिवार के लोग। 

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आजकल कुछ ना कुछ बड़ी घटना घटती रहती है यूं तो लखनऊ सुरक्षित है लेकिन हर मामले में भी सुरक्षित नहीं है पिछले कुछ दिन पहले ही कुछ लोग जिंदा जलने के बाद एक बड़ी घटना होते हुए 2 बच्चों की जान चली गई थी आग में इनकी मौत आग में झुलस कर होने की वजह से पूरा प्रशासन सकते में था कि अचानक से आज फिर एक बड़ी घटना घट गई।

जानकीपुरम मकान में आज आग लगने से उनके परिवार तो बच गए लेकिन पूरा घर जलकर खाक हो गया शुक्र की बात यह है कि दमकल कर्मियों ने मौके पर आकर इन परिवारों को बचाया तथा इनके घर में लगी आग को भी शांत करने में काफी मदद की आसपास के क्षेत्र में भी आग की असर देखने को मिली आग की लपट इतनी तेज थी कि दूर से ही या देखा जा सकता था कि जानकीपुरम में एक आग लगी है इस आग में किसी की जान जोखिम मैं तो नहीं थी लेकिन जिस परिवार का घर जला वह तो एक तरह से समझिए मर ही गया उसके घर में कुछ  नहीं बचा और पूरा घर जल कर खाक खाक हो गया।

 

वैसे पड़ोसियों ने उनकी मदद की गुहार लगाई है। 

और हमारी बातचीत के दौरान उस परिवार के लोग डीएम से तथा सीएम से अनुरोध कर रहे हैं कि उन्हें अभी आर्थिक मदद दिया जाए जिस वजह से उनको कुछ राहत की सांस मिले अन्यथा ये परिवार पूरा सड़क पर आ चुका है।

यूं तो लखनऊ में क्या पूरे देश में विश्व भर के लोग परेशान हैं कोरोना के बाद से लोगों की नौकरियां जा रही हैं तथा आए दिन बुरी खबर ही मिलती है। आर्थिक स्थिति पहले से भी ज्यादा खराब होते हुए नागरिकों की आय में कमी पाई गई है।  तथा इसके बावजूद इस तरह की घटना बिल्कुल ही सड़क पर लाने के योग्य है।

आग जानकीपुरम सेक्टर डी का के मकान में लग गई थी यहां के निवासी रमेश दीक्षित के घर में परिवार रविवार सुबह पूजा के कमरे में दीपक से आग लग गई  परिवार जनों में पानी फेंककर आग पर काबू पाने का प्रयास किया पर सफलता उनके हाथ ना लगी।

 हमारे टीम ने अनुरोध किया है कि इस तरह के भीषण आग से बचने के लिए जरूरी चीजों का उपाय करें तथा सजग रहें। 

 लखनऊ  वासियों के लिए  खुशख़बरी सेवा योजना विभाग का एक बड़ा फैसला। 

 लखनऊ  वासियों के लिए  खुशख़बरी सेवा योजना विभाग का एक बड़ा फैसला। 

 

लखनऊ में सेवा योजना विभाग  एक सराहनीय कदम उठाते हुए लखनऊ के अनुसूचित जाति एवं जनजातियों को एक बड़ा लाभ देते हुए सुनिश्चित किया है कि जितने भी पिछड़े वर्ग के स्टूडेंट हैं जोकि अपने माली हालत था आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के वजह से पढ़ाई बीच में रोक दी है। 

 

या पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं अपने पढ़ाई के खर्च को नहीं बियर कर पा रहे हैं उन जैसे लोगों के लिए सेवा योजना विभाग ने एक बेहतरीन कदम बढ़ाते हुए सराहनीय रुप से इन लोगों के लिए निशुल्क पढ़ाई करने की उत्तम व्यवस्था कर दी है लाल बाग के क्षेत्रीय सेवायोजन कार्यालय की ओर से संचालित में लगभग 60 से 100 विद्यार्थियों को लाभ पहुंचाया जाएगा। 

जिसमें वह डायरेक्टआकर अपनी अपनी विषय अनुसार कोचिंग ले पाएंगे इसमें अच्छी बात यह है।

कि जो हमारे अनुसूचित जाति के विद्यार्थी हैं जो बाहर जाकर तैयारी नहीं कर पा रहे जैसे किसी विशेष परीक्षा के लिए एसएससी एसएससी या फिर उच्च स्तर के अफसर क्लास की नौकरी के लिए वह बड़े-बड़े कोचिंग सेंटर में अपने माली हालत की वजह से पढ़ाई नहीं आगे जारी रख पाते हैं। 

 जिस कारण से सरकार ने यह कदम उठाते हुए इन सभी विद्यार्थियों को लाभ पहुंचाने को आदेश दिया है। 

और इन सभी विद्यार्थियों के इन सभी मूलभूत सुविधाओं को देखते हुए इन कोचिंग सेंटरों में ऐसे टीचर की बहाली की जाएगी तथा बहाली कर दी गई है। 

 

जो इन तरह के परीक्षार्थियों को सीधा लाभ पहुंचा पाएंगे जिसमें भाषा ज्ञान ज्ञान विषय साइंस मैथ्स तथा रिजनिंग के भी शिक्षक उपलब्ध होंगे जिससे यह विद्यार्थी निसंकोच होकर अपनी अपनी भाषा में तथा अपने शिक्षकों से बेहतर मापदंड के अनुसार अपनी अपनी तैयारियों में जुटेंगे और अपने मुकाम को हासिल करेंगे देखा जाए तो यह एक सराहनीय कदम है। 

सरकार की तरफ से सेवा योजना विभाग ने इस तरह की कदम उठाते हुए या देश को साबित कर दिया है। 

 शिक्षा की कितनी जरूरत है सभी विद्यार्थियों के लिए तथा ऐसे कदम हर एक जगह भी उठनी चाहिए जहां मध्यम परिवार के लोग तथा निम्न स्तर के  आय की वजह से आर्थिक कमी की वजह से लोग पढ़ नहीं पाते हैं।

उन्हें इस तरह की सुविधाएँ प्रदान की जाएगी तो उनके विद्यार्थी आगे चलकर नाम रोशन करेंगे। 

लखनऊ वासियों हो जाएं सावधान लखनऊ में घूम रहा है खतरनाक जंतु।

लखनऊ वासियों हो जाएं सावधान लखनऊ में घूम रहा है खतरनाक जंतु। 

आज का लखनऊ हो गया है खतरनाक घूम रहा है तेंदुआ जो लोगों की जान भी ले सकता है यह तेंदुआ काफी खतरनाक है यूं बता दे कि कुछ दिन पहले यह अफवाह फैली थी कि लखनऊ में तेंदुआ देखा जा रहा है।लेकिन यह अफवाह अब बिल्कुल ही सच है।

इसे अफवाह नहीं बोल सकते बंथरा क्षेत्र में दो तेंदुआ शिकार की तलाश में घूम रहे यहां राष्ट्रीय वनस्पति स्थान परिसर एनवीआरआई में दो तेंदुआ होने की जानकारी उजागर की गई है या काफी खतरनाक है क्योंकि यह जंगली जानवर है आए दिन लोगों पर या किसी भी जीव जंतु पर शिकार कर उन्हें खाने की प्रयास कर रहे हैं।

इस तेंदुए को वन विभाग ने ट्रैकिंग की व्यवस्था बनाते हुए ट्रैकिंग की की थी करीब 7 मीटर जमीन के हिस्से को साफ करने के बाद। 

उसे मिट्टी और बालू के जाल बनाई गई थी फ़साने के लिए एनबीआरआई परिसर में जहां जगह ट्रैकिंग की गई थी जिसमें दो जगह तेंदुआ का जाने का रास्ते में उसके पैर के निशान पाए गए यह देखते हुए वन विभाग के कर्मचारियों ने अन्य अलग-अलग जगहों पर इसको ट्रैकिंग किया और उन जगहों पर भी तेंदुआ के खतरनाक पंजे का निशान उपलब्ध हुआ।

इन सब चीजों को देखते हुए वन विभाग के कर्मचारियों ने लखनऊ सिटी में डेरा डाला हुआ है। 


कर्मचारियों के हिसाब से हिंदुओं को जल्द से जल्द खोज लिया जाएगा और उनको उचित जगह पर छोड़ दिया जाएगा वन विभाग के कर्मचारियों का कहना है.

कि जब तक ये मिल नहीं जाते तब तक सतर्कता बरतना ही सही रहेगा हमारी टीम से बातचीत के दौरान ट्रैकिंग टीम  में लगाए गए क्षेत्रीय वन अधिकारी अभिषेक के मुताबिक तेंदुए की लोकेशन का पता लगाया जा रहा है।

लोगों को उन्होंने साफ स्पष्ट बोला है कि अगर वह खेत जा रहे हैं या खेत खलियान कभी किसी काम से बस जा रहे हैं तो सतर्कता बरते हैं लाठी डंडा हाथ में रखे तथा टॉर्च भी साथ में रखें और हमेशा चौकन्ना रहे क्योंकि यह तेंदुआ जंगली हैं और कभी भी किधर से भी किसी के ऊपर हमला कर सकते हैं।

जिससे उनकी जान को जोखिम हो सकता है और वह घायल भी हो सकते हैं इस वजह से वन विभाग के कर्मचारियों ने सभी को अलर्ट जारी कर दिया है।

देखा जाए तो यह आए दिन ऐसी घटनाएं लखनऊ में होती रहती हैं। 

जिससे घटना होने की संभावना बनी रहती है यह तेंदुआ जैसी नीलगाय हो और आवारा पशुओं से फसलों को बचाने के लिए खेतों की रखवाली कर रहे किसानों ने भी रात को या रखवाली बंद कर रखी है।

बता दें कि करीब सप्ताह भर पहले एनबीआरआई जंगल के पीछे खेतों में अंधे पुर गांव के एक युवक ने तेंदुआ को देखने की सूचना अस्पष्ट की थी जिसके बाद पुलिस और वन विभाग के सारे टीम मौके पर आकर जांच जारी रखी और इस जांच में पाया गया कि वाकई में लखनऊ में घुस चुका है।


गोमती नदी के कछुआ और कठवारा जंगल में उसके भोजन पानी का व्यवस्था ठीक-ठाक हो जाता है जिसे तेंदुए का पेट भरा रहता है जिस वजह से वह घनी आबादी वाले क्षेत्र में अभी नहीं आ रहा है माना जा रहा है कि तेंदुआ शहर के विभिन्न ग्रामीण इलाकों से होकर बंथरा पहुंचा है

sbi ifsc code

SBI IFSC CODE

Sbi ifsc code

 

SBI TABLE IFSC

District NameIFSC CodeMICR CodeAddress
PatnaSBIN0014670NON MICRHOUSE OF SRI BMK SINHA RADHIKA COMPLEX A G COLONY MAIN ROAD PATNA BIHAR 800023
East ChamparanSBIN0001763845002004DIST PURBI CHAMPARAN BIHAR 845401
MuzaffarpurSBIN0003100842002007P O MUZAFFARPUR BIHAR PIN 842001
MadhubaniSBIN0003549847002503PO BASOPATTI DIST MADHUBANI
GayaSBIN0012606NON MICRAMAS GAYA 824212
SamastipurSBIN0002322848002501PO ADB DALSINGH SARAI DIST SAMASTIPUR
SaranSBIN0005456841002004P O ADB CHAPRA DIST SARAN BIHAR 841301
DarbhangaSBIN0006014846002505DIST DARBHANGA BIHAR 847103
West ChamparanSBIN0006385845002613DIST PASCHIMI CHAMPARAN STATE BIHAR PIN 845449
VaishaliSBIN0003684844002003P O HAJIPUR BIHAR
BIHAR SBI TABLE IFSC

 

Ifsc code Bihar