Doctor Murder Case -उत्तरप्रदेश:डॉक्टर ने किया डॉक्टर का खून।

शादी से इनकार करने पर प्रेमी डॉक्टर ने पहले गला दबाया पर चाकू से सिर पर किया कई वार और लाश को फेंक दिया खेत में। 

डॉ योगिता गौतम मंगलवार से लापता थी। 

डॉ योगिता गौतम
डॉ योगिता गौतम

उसका लाश बुधवार सुबह आगरा में डॉकी थाना क्षेत्र में मिला था बता दें आपको योगिता एक डॉक्टर थी पैसे से स्त्री रोग विशेषज्ञ या डॉक्टर एसएन मेडिकल कॉलेज में स्त्री रोग विभाग में पीजी की छात्रा थी।

 

डॉक्टर योगिता गौतम आरोपी ‘डॉ विवेक तीर्थंकर, मेडिकल कॉलेज में योगिता से 1 साल सीनियर था वहीं दोनों में मुलाकात हुई और प्रेम प्रसंग बढ़ गया बताया जा रहा है।

 

प्रेम प्रसंग के कारण ही डॉक्टर यह योगिता गौतम की हत्या की गई है। 

 

आरोपी डॉक्टर ने 1 साल सीनियर था योगिता गौतम से यही दोनों की मुलाकात हुई थी उत्तर प्रदेश के आगरा में 26 साल की गौतम की हत्या के मामले में उनके दोस्त डॉक्टर विवेक तिवारी को गिरफ्तार किया गया है। 

डॉ ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। 

उसने बताया कि वह योगिता से शादी करना चाहता था और योगिता गौतम काफी दिनों से इंकार कर रही थी जिस वजह से उसे गुस्सा आया और गुस्से का आक्रोश में बदलकर उसने योगिता गौतम को चाकू से गोदकर उसकी जान ले ली। 

डॉ आरोपी से हमारी बातचीत के दौरान डॉ विवेक ने बताया कि जब वह डॉक्टर योगिता गौतम से मिलने मंगलवार शाम को जालौन गया था योगिता कार में बैठी थी तभी दोनों के बिच बहस शुरू हो गई बस इतनी बढ़ गई कि मैंने गुस्से में आकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी मुझे लगा कि वह मरी नहीं है।

डॉ योगिता गौतम (1)
डॉ योगिता गौतम (1)

डॉ मैं अपनी कार में चाकू रखता हूं उसे चाकू से योगीता कि सर पर वार किए फिर सुनसान जगह पर शव फेंक दिया। 

पुलिस ने बताया कि दोनों के बीच 7 साल से रिलेशन था और वह दोनों एक दूसरे से प्रेम भी करते थे और शादी भी करना चाहते थे लेकिन किसी कारणवश दोनों में बेतूकी बात बढती हुई चलि गई। 

और बात  इतनी बढ़ते-बढ़ते हुए  इतनी दूर चले गए कि डॉक्टर योगिता का खून कर दिया खैर डॉ विवेक ने अपने सारे जुल्म को कबूल कर लिया है।

डॉ ने उसके और सारे यथावत कहानी भी बता दी है। 

आरोपी

यू अगर बताया जाए तो डॉक्टर योगिता गौतम के परिवार जन डॉक्टर विवेक पर ही शक जता रहे थे उन्होंने शक जाहिर करते हुए कहा था कि हो सकता है कि डॉक्टर जो गीता गौतम का खून डॉक्टर विवेक द्वारा किया गया हो। 

 

वही बमरोली गांव के पास मिला था डॉक्टर योगिता का लाश टोटल योगिता का शव बुधवार को आगरा में इलाके में बमरोली गांव के पास खेत में मिला उसके सिर और चेहरे पर चाकू से कई हमले का निशान भी हैं और चेहरा बुरी तरह से गोद दिया दिया गया है लाश  लोअर टी शर्ट में था स्पोर्ट्स जूते पास में पड़े थे तलाशी में जेब से कोई पहचान पत्र या अन्य दस्तावेज नहीं मिला मोबाइल भी गायब था।

शाम को सब की शिनाख्त एसएन मेडिकल कॉलेज में स्त्री रोग विभाग में पीजी की छात्रा योगिता गम के रूप में हुई। 

हथियार
हथियार

 

डॉग गौतम दिल्ली की थी और योगिता गौतम दिल्ली के शिवपुरी कॉलोनी में रहती थी उन्होंने 2009 में मुरादाबाद के मेडिकल कॉलेज से किया था और 3 साल पहले मेडिकल कॉलेज पीजी एडमिशन लिया था वह आगरा में थाना गेट के दरवाजे  पास  रहती थी बट दे डॉ योगिता गौतम  की कोरोना में भी बहुत बड़ा योगदान रहा है। 

Leave a Comment