Important notice -इंडियन रेलवे करेगा 1974 जैसी पुनः हड़ताल।

Important notice -इंडियन रेलवे करेगा 1974 जैसी पुनः हड़ताल।

 

इंडियन  रेलवे 1974 जैसी पुनः हड़ताल करने की योजना बनाने में लगा हुआ है। एक बार फिर एनसीसीआरएस का अस्तित्व रोचक होगा। बताया जा रहा है कि देश की सभी 19 रेल कर्मचारी यूनियन तथा एसोसिएशन एनसीसीआरएस का भाग बनेंगी एनसीसीआरएस के गठन की घोषणा के साथ-साथ रेलवे निजीकरण के विरुद्ध हड़ताल की रूपरेखा अगले महीने तय की जाएगी।

गुरुवार को ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के केंद्रीय महामंत्री शिव गोपाल ने चारबाग में एनआरएमयू के मंडल कार्यालय सभागार के सेमिनार में इस आंदोलन के संबंध में बताया।

बताया कि 2023 तक रेलवे बोर्ड ने 5% रेलखंड पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे या फिर इससे अधिक तेजी वाली आधुनिक ट्रेनें चलाने के बारे में बताया है जिस पर तीस हजार करोड़ रुपए का खर्च आएगा

बताया कि 22 हजार से अधिक ट्रेनें भारत में 2.5 करोड़ से अधिक जनता को एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचाती हैं। वह भी सस्ते किराए के साथ जिससे कि यात्रियों को अधिक सुविधा महसूस होती है।
रेलवे के रिकॉर्ड के अनुसार पिछले वर्ष 8.5 करोड़ यात्री इंतजार सूची में ही रह गए थे।
उन्होंने कहा कि डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के प्रारंभ होने पर रेलवे वेटिंग के यात्रियों के लिए अतिरिक्त ट्रेनें बढ़ाने में काबिल है। और निजीकरण आम यात्रियों पर काफी हद तक भारी पड़ सकती है।
इंडियन रेलवे के पास दुनिया भर की तकनीकों में सबसे बेहतर तकनीक उपलब्ध है क्योंकि स्पेन से आया सेमी हाई स्पीड ट्रेन से अच्छा , वंदे भारत मिशन की ट्रेन है।
इसको तैयार करने में लागत 600 करोड़ की जगह केवल 92 करोड़ ₹ लगी है।

Leave a Comment