लखनऊ कोरोना

Lucknow:कोरोना का कहर लखनऊ में ज्यादा।आखिर क्यू।

लखनऊडॉ आर के चौधरी। प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोविड-19 से संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा तो आप देख सकते हैं।

 

लेकिन इन कोविड संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा होने के साथ-साथ अस्पतालों में व्यवस्था भी चरमरा रही है  जिस वजह से कोरोना संक्रमित मरीजों की मौतें भी लगातार बढ़ती  जा रही है।

लखनऊ में 3 दिन बाद भी Corona संक्रमित अस्पताल नहीं  पहुंची  संक्रमित महिला कंट्रोल रूम को किया फोन लखनऊ में पॉजिटिव मिलने वाला को कोविड-19 अस्पताल पहुंचाने के लिए बनी योजनाएं बिल्कुल सही साबित नहीं हो पा रही है। 

 

LUCKNOW; सावस्थ विभाग देखा जाए यह सारी व्यवस्था अब कागजी  बनकर रह रही गई है  इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम में बार-बार कॉल करने के बाद भी कोरोना  संक्रमित मरीजों को कोविड-19 अस्पताल नहीं समय से पहुंचा पा रही है।

लखनऊ कोरोना
लखनऊ कोरोना

 

लखनऊ में कुछ ऐसा ही हाल कोरोना संक्रमित मरीजों  के परिजनों से मिलने वाले  के साथ होता जा रहा है जिस वजह से अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है।  

 

पॉलीक्लिनिक में 30 जुलाई को  एक महिला को भर्ती कराया  गया था जिन्हें कुछ मामूली शिकायतें देखने को मिल रही थी पथरी की प्रॉब्लम तथा उनकी कोरोना की रिपोर्ट की टेस्टिंग कराई गई जब टेस्टिंग हुई तो वह  कोरोना से संक्रमित पाई गई अस्पताल प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग को सूचना भेजी महिला को शुगर ब्लड प्रेशर और फाइलेरिया, मोटापा, का भी समस्या है।

लखनऊ कोरोना
लखनऊ कोरोना

 

अस्पताल में इतनी समस्या के साथ या महिला को भी है जिससे इनके जान को खतरा भी बढ़ गया है किस वजह से प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग इन पर निगरानी बनाए रखी है कि यह महिला जल्द से जल्द ठीक हो जाए। 

 

डॉ आर के चौधरी ,ने बताया कि हर पहलू पर वह जांच करवा रहे हैं और विभाग  सारी व्यवस्था को बनाए रखने में सक्षम है जिस वजह से लखनऊ शहर में कोरोना  संक्रमितओं की संख्या में थोड़ा बहुत गिरावट देखा जा सकता है। 

लखनऊ में प्रसासन HUWA सख्त। 

लखनऊ में आज प्रसासन दुवारा वसूला गया 21000 .लखनऊ में बिना मास्क के घूमने वालो की कमी नहीं तो प्रसासन ने भी वसूल लिये फाइन। यह राज्य सरकार के धन कोष में जाएगा।

लखनऊ कोरोना
लखनऊ कोरोना

राज्य सरकार। मुख्य मंत्री योगी अदित्यनाथ। बार-बार जनता से अपील भी कर रहे है। की आम जनता कोरोना को एक महामारी के रूप में ले  और इस से जुडी सारे प्रॉटोकॉल को फॉलो करे अन्यथा वो तो अपनी जिंदगी खतरे में दाल ही रहे है। साथ ही साथ अपने परिवार के सदस्यों को भी जोखिम में डाल रहे है।

Leave a Comment